1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. प्रियंका गांधी ने जारी किया कांग्रेस का महिला घोषणा पत्र, पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को देने का किया वादा

प्रियंका गांधी ने जारी किया कांग्रेस का महिला घोषणा पत्र, पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को देने का किया वादा

राशन की दुकानें महिलाओं को 50 फीसदी, इण्टर की छात्राओं को स्मार्टफोन व ग्रेजुएट छात्राओं को स्कूटी और पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को देने का वादा किया गया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव व उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने कांग्रेस का महिला घोषणापत्र जारी किया। कांग्रेस के इस महिला घोषणा पत्र में प्रमुख रूप से स्वाभिमान, स्वावलंबन, शिक्षा, सम्मान, सुरक्षा और सेहत पर फोकस किया है। इसके अलावा राशन की दुकानें महिलाओं को 50 फीसदी, इण्टर की छात्राओं को स्मार्टफोन व ग्रेजुएट छात्राओं को स्कूटी और पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को देने का वादा किया गया है।

पढ़ें :- गुलाम नबी आजाद ने कहा अगले लोकसभा चुनाव में भी 300 सीटें नहीं जीत पाएगी कांग्रेस

बुधवार को माल एवेन्यू स्थित प्रदेश कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं के सशक्तीकरण की बात सिर्फ विज्ञापनों में है। महिलाएं अपने हक के लिए लड़ना चाहती हैं। हम महिलाओं को सक्षम और सशक्त बनायेंगे। उन्होंने कहा कि अगर इस देश की महिलाएं अपनी शक्ति को पहचान लें तो देश बदल सकता है। राजनीति में जातिवाद, सम्प्रदायवाद खत्म हो सकता है।

प्रियंका ने कहा कि दृढ़ निश्चय, करुणा, दया, साहस ये महिलाओं के गुण होते हैं, हम चाहते हैं ये गुण राजनीति में भी हों। सिर्फ चुनाव के समय औपचारिकता न रहे। हम सच में महिलाओं की भागीदारी राजनीति में सुनिश्चित कराना चाहते हैं, इसीलिए हमने महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने की बात कही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पंचायतीराज में इसकी शुरुआत कर दी थी। पहली महिला प्रधानमंत्री, पहली महिला राष्ट्रपति व उत्तर प्रदेश की पहली महिला मुख्यमंत्री देने का काम कांग्रेस ने किया। प्रियंका गांधी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि मुझे अपने धर्म और आस्था के लिए योगी आदित्यनाथ से प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं हैं। मैं 14 वर्ष की उम्र से व्रत रख रही हूं। वहीं, भाजपा के चुनाव के समय ही मंदिर जाने के आरोप पर उन्होंने कहा कि योगी को क्या मालूम कि मैं कौन से मंदिर जाती हूं। मुझे उनके प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है।

कांग्रेस महासचिव ने आगे कहा कि कांग्रेस ने महिला घोषणा पत्र में प्रमुख रूप से स्वाभिमान, स्वावलंबन, शिक्षा, सम्मान, सुरक्षा और सेहत पर फोकस किया है। महिला घोषणा पत्र में कांग्रेस ने सरकारी नौकरियों में 40 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया है। 25 शहरों में आधुनिक संसाधनों से युक्त बालिका छात्रावास बनाए जाएंगे। राशन की दुकानों का 50 प्रतिशत संचालन महिलाएं करेंगी। इण्टर की छात्राओं को स्मार्टफोन व ग्रेजुएट छात्राओं को स्कूटी दी जायेगी। पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को दी जाएंगी। इसके अलावा आशा बहुओं और आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को न्यूनतम 10 हजार रुपये वेतन दिया जाएगा। बीमारी के लिए 10 लाख रुपये तक की इलाज की व्यवस्था होगी। राज्यभर में वीरांगनाओं के नाम पर 75 दक्षता विद्यालय खोले जाएंगे। इसी तरह गांवों में महिला चौपाल का निर्माण व महिलाओं को सरकारी बसों में फ्री यात्रा की अनुमति देने का वायदा किया गया है। इस मौके पर अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष शुष्मिता देव व यूपी कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना भी उपस्थित रहीं।

पढ़ें :- राजस्थान सीएम गहलोत ने की प्रियंका को हिरासत में लेने की निंदा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...