1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. लोहिया की पुण्य तिथि पर एकता पर जोर, 2022 चुनाव की रणनीति पर चर्चा

लोहिया की पुण्य तिथि पर एकता पर जोर, 2022 चुनाव की रणनीति पर चर्चा

डॉ लोहिया की पुण्यतिथि पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने श्रदांजलि दी और आगामी चुनाव पर चर्चा की।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

फर्रुखाबाद,12 अक्टूबर। डॉ राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर समाजवादी लोगों ने एकता पर बल दिया। इस अवसर पर आवास विकास स्थिति प्रतिमा पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव विश्वास गुप्ता की अगुवाई में पार्टी पदािधकारी व कार्यकर्ताओं ने प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए विधानसभा चुनाव पर चर्चा की।

पढ़ें :- शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी से गठबंधन की कोशिशों में जुटे, प्रसपा नेता परेशान

इस मौके पर प्रदेश सचिव विश्वास गुप्ता ने कहा फर्रुखाबाद जनपद डॉक्टर लोहिया की कर्मभूमि रही है। मई 1963 में फर्रुखाबाद की जनता ने डॉक्टर लोहिया को जीता कर लोकसभा में भेजा था। उन्होंने हमेशा गरीबों मजदूरों की आवाज को बुलंद किया था। मुलायम सिंह यादव ने डॉक्टर लोहिया के सपने को साकार करने का काम किया। आज सभी समाजवादी चाहते हैं जो कोई भी लोहिया के सिद्धांतों में विश्वास रखता हो वह सारे लोग एक मंच पर आकर के आने वाले 2022 के चुनाव में प्रदेश में समाजवादियों की सरकार बनाएं। डॉक्टर लोहिया मुलायम सिंह यादव के सिद्धांतों को आगे बढ़ाएं।

प्रदेश सचिव अनस सिद्दीकी ने कहा कि डॉक्टर लोहिया के सिद्धांतों को शिवपाल सिंह यादव आगे बढ़ा रहे हैं और लगातार कह रहे हैं, सारे समाजवादी एक हो जाएं तभी इस प्रदेश से भाजपा को हटा पाएंगे। अगर एक नहीं हुए तो 2022 के चुनाव में समाजवादियों की हालत बहुत खराब हो जाएगी। इसलिए अपने स्तर से एकता का प्रयास करें।

महानगर अध्यक्ष अतीक अहमद ने कहा डॉक्टर लोहिया के समाजवादी आंदोलन को मुलायम सिंह यादव ने व शिवपाल सिंह यादव जी ने मिलकर आगे बढ़ाया है। आज सभी को एक मंच पर आने की जरूरत है डॉक्टर लोहिया ने हमेशा समाज को जोड़ने की बात की है। दवे पिछड़ों की उन्होंने हमेशा आवाज उठाई है। इसलिए आज उनकी पुण्यतिथि पर सारे समाजवादी उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं।
हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...