1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. VIP कल्चर खत्म करने की पहल: पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा ”मुझे मेरे अपने पंजाबियों से क्या नुकसान होगा?”

VIP कल्चर खत्म करने की पहल: पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा ”मुझे मेरे अपने पंजाबियों से क्या नुकसान होगा?”

पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी ने अपने सुरक्षा घेरे को घटाने का ऐलान करते हुए कहा कि ''मैं भी आप में से एक हूं और मेरे अपने लोगों से मेरी सुरक्षा करने के लिए मुझे 1000 सुरक्षा कर्मियों की फ़ौज की ज़रूरत नहीं है।''

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

कपूरथला, 24 सितंबर। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने खुद को आम इंसान और हर पंजाबी का भाई बताते हुए कहा है कि उन्होंने सरकारी कार्य प्रणाली में VIP कल्चर के खात्मे का आधार रख दिया है। उनकी इस कोशिश से आम लोगों को सुविधा होगी। मुख्यमंत्री चन्नी ने अपने सुरक्षा घेरे को घटाने का ऐलान करते हुए कहा कि ”मैं भी आप में से एक हूं और मेरे अपने लोगों से मेरी सुरक्षा करने के लिए मुझे 1000 सुरक्षा कर्मियों की फ़ौज की ज़रूरत नहीं है।”

पढ़ें :- Punjab : भ्रष्टाचार के आरोपी पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को हटाया जाना सराहनीय कदम- केजरीवाल

VIP कल्चर खत्म करने की पहल

कपूरथला के आई.के. गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी में गुरुवार को आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि जब मैंने अपना पद संभाला तो मुझे बताया गया कि 1000 सुरक्षा जवानों का दस्ता मेरी हिफ़ाज़त के लिए होगा। इस सुरक्षा व्यवस्था को सरकार के संसाधनों की बर्बादी बताते हुए उन्होंने कहा कि इस कवायद को चलाने की मंजूरी नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि मुझे मेरे अपने पंजाबियों से क्या नुकसान होगा?। लोगों को दूर रखने वाली इस व्यवस्था से मुझे भी तकलीफ़ होगी क्योंकि मैं भी बाकि पंजाबियों की तरह एक साधारण मनुष्य हूं। मुख्यमंत्री उनकी ज़िंदगी को ख़तरा होने के सम्बन्ध में सुरक्षा एजेंसियों की तरफ से दिए गए तर्क को दरकिनार करते हुए कहा कि उन्होंने पुलिस को सुरक्षा घटाने के लिए कह दिया है।

लग्जरी चीजें फिजूल हैं- चन्नी

मुख्यमंत्री ने खुलासा करते हुए कहा कि उनको ख़ुद इस बात के बारे में जानकर हैरानी हुई कि राज्य के प्रमुख के तौर पर उनके लिए अरामदायक सफ़र के लिए कमरे जितनी महंगी कार है। इस कार की कीमत दो करोड़ रुपये है जो कि करदाताओं के पैसों से ख़रीदी गई है। चन्नी ने कहा कि ऐसी लग्जरी चीजें फिजूल हैं, जिसकी उनको कोई इच्छा नहीं। ये फंड लोगों ख़ासकर कमज़ोर और वंचित वर्गों की भलाई के काम में ख़र्च किया जा सकता है।

पढ़ें :- Punjab : अब एक ही जेल में रहेंगे धुर-विरोधी नेता सिद्धू और मजीठिया, सिद्धू ने पटियाला कोर्ट में किया सरेंडर

सिंपल रहन-सहन और उच्च विचार रखने में विश्वास

मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि वो खुद सादा रहन-सहन और उच्च विचार रखने में विश्वास रखते हैं, इसलिए VIP संस्कृति हर कीमत पर ख़त्म की जायेगी। उन्होंने कहा कि वो आलीशन जीवन जीने का शौक रखने की बजाय पंजाब के लोगों की सेवा करने में विश्वास रखते हैं। उन्होंने अधिकारियों को सुनिश्चित करने को कहा कि उनके काफिले की गाड़ियां कम रहें। चन्नी ने ये भी कहा कि वो VIP नहीं बल्कि साधारण पंजाबी हैं और कोई भी उनको किसी भी समय मोबाइल पर कॉल कर सकता है और वो लोगों की सेवा के लिए 24 घंटे मौजूद हैं।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...