1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. रक्षा बंधन 22 को: राखी बाजार सजकर तैयार, इस बार दिनभर बंधेंगी राखी

रक्षा बंधन 22 को: राखी बाजार सजकर तैयार, इस बार दिनभर बंधेंगी राखी

श्रावण शुक्ल पूर्णिमा पर 22 अगस्त को रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा। इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा का साया नहीं होने से दिनभर राखी बंध सकेगी।

जयपुर, 21 अगस्त । श्रावण शुक्ल पूर्णिमा पर 22 अगस्त को रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा। इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा का साया नहीं होने से दिनभर राखी बंध सकेगी। वहीं रक्षाबंधन को लेकर शहर में राखी बाजार सजकर तैयार है और अलग-अलग कीमतों में रंग बिरंगी राखियां दुकानों पर सजी हुई है।

पढ़ें :- रक्षाबंधन पर यूपी को योगी का सौगात: हर घंटे चलेंगी रक्षाबंधन स्पेशल बसें

रक्षाबंधन पर रविवार होने पर नौकरी पेशा बहनों के लिए शनिवार को राखी खरीदने का वक्त निकाला। बाजारों में महिलाओं और बच्चों की खासी रौनक है। इस बार भी हमेशा की तरह बच्चों के लिए कार्टून केरेक्टर की राखियां ही आकर्षण का केंद्र बनी है। इनमें डोरेमोन, सिंचेन, छोटा भीम, चुटकी, कालिया, ढोलू- भोलू, और नोबिता शामिल है। बहनों व भाभियों की कलाई पर इस बार बहुत ही खास किस्म के राखी चूड़ा सजेंगे। बेहद खूबसूरत व आकर्षक डोरे, मोतियों, आकर्षक बीड्स, सीमर, गोटापत्ती से बनें ये राखी चूड़ा इस बार बाजार में काफी पसंद किए। राखियों की कीमत 50 रुपये से लेकर 100 रुपये तक है। इसकी खरीदारी भी दो मकसद से की जा रही है। एक तो राखी के रुप में इसका उपयोग किया जाएगा दूसरा इसे बाद में भी किसी फंक्शन में साड़ी या सूट के मैचिंग के साथ भी पहना जा सकेगा। राखी का त्योहार एक दिन शेष रहने के साथ ही सुबह से देर रात तक राखी बाजारों में रोनक देखने को मिल रही है।

परकोटा क्षेत्र में नाहरगढ़ रोड, झालानियों का रास्ता, चांदपोल बाजार, किशनपोल बाजार, त्रिपोलिया बाजार सहित अन्य बाजारों और गलियों में राखियों की दुकानें है, जहां सुबह से देर शाम तक ग्राहकी हो रही है। पिछले साल के मुकाबले इस बार ग्राहकी अच्छी होने से दुकानदार भी खुश नजर आ रहे है। बाजारों में 5 रुपए से लेकर 200 रुपए तक की राखी है, हालांकि महिलाएं 5 रुपए से 30 रुपए तक की ही राखी अधिक पसंद कर रही हैं।

जयपुर में रक्षाबंधन से करीब एक- डेढ माह पहले राखियों का कारोबार शुरू हो जाता है। इस बार राखी बाजार में कोरोना महामारी का साया नजर आ रहा है।

राखी कारोबारी राकेश अ्ग्रवाल ने बताया इस बार बाजार में राखियों की ग्राहकी पिछले 10 दिन से ही शुरू हो गई थी। राखी का कारोबार सिर्फ 25 फीसदी ही रह गया है।

पढ़ें :- रक्षाबंधन कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री

रक्षाबंधन पर बसों में बहनों को फ्री यात्रा

रक्षाबंधन पर राज्य सरकार के निर्देश पर राजस्थान रोडवेज ने प्रदेश की बहनों को फ्री यात्रा का तोहफा दिया है। रोडवेज सीएमडी द्वारा जारी आदेशानुसार प्रदेश में शनिवार रात 12 बजे से लेकर रविवार रात 12 बजे तक रोडवेज की एक्सप्रेस और साधारण सेवाओं में महिलाएं और बालिकाएं फ्री में यात्रा कर सकेंगी। फ्री यात्रा राजस्थान की सीमा तक ही वैध होगी। राजस्थान की सीमा के बाहर यात्रा के अंतर का भुगतान करना होगा।

पंडित गौरव गौड ने बताया कि 22 अगस्त को पूर्णिमा तिथि शाम 5 बजकर 32 मिनट तक है, जो तीन मुहूर्त्त से अधिक होने से रक्षाबंधन इसी दिन मनाया जाएगा। रक्षाबंधन पर इस वर्ष भद्रा सुबह 6 बजकर 13 मिनट तक ही है। ऐसे में इस बार दिनभर राखी बांधी जा सकेगी। हालांकि अपराह्न काल समय दोपहर एक बजकर 46 मिनट तक और प्रदोष काल के समय शाम 6 बजकर 54 मिनट से रात 9 बजकर 08 मिनट तक राखी बांधने का समय शास्त्र सम्मत होगा। साथ ही अभिजित मुहूर्त दोपहर 12.04 बजे से 12.55 बजे के अलावा चौघड़िया के अनुसार भी राखी बांधी जा सकेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...