1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. रोहिणी शूटआउट मामला: जेल में बंद टिल्लू से अपराध शाखा ने दो घंटे की पूछताछ

रोहिणी शूटआउट मामला: जेल में बंद टिल्लू से अपराध शाखा ने दो घंटे की पूछताछ

रोहिणी शूटआउट मामले मुख्य संदिग्ध जेल में बंद गैगेस्टर टिल्लू ताजपूरिया से दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने करीब दो घंटे पूछताछ की।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 30 सितंबर। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने रोहिणी शूटआउट मामले मुख्य संदिग्ध जेल में बंद गैगेस्टर टिल्लू ताजपूरिया से बुधवार को करीब दो घंटे पूछताछ की। इस दौरान पुलिस ने उससे दो घंटे में घटना को लेकर करीब 20 सवाल पूछे। दरअसल रोहिणी कोर्ट में हुई जितेंद्र गोगी की हत्या का मुख्य संदिग्ध माना जा रहा है। इसलिए अपराध शाखा इस मामले को लेकर टिल्लू से पूछताछ करने के लिए जेल पहुंची थी।

इन सवालों के जवाब मांगे टिल्लू से

इन सवालों में यह पूछा गया कि उसके पास कहां से मोबाइल आया ? उसने किन लोगों को फोन किया ? हत्या की साजिश वह कब से बना रहा था ? इसकी शुरूआत उसने कब से की थी ? इसमें कितने लोग शामिल हैं ? क्या इस साजिश में उसके अलावा कोई और दूसरा गैंग में इसका हिस्सा हैं ? इस तरह के तमाम सवालो के जवाब अपराध शाखा ने टिल्लू से किए। वहीं गोगी हत्याकांड को लेकर और मारे गए दोनों शूटर व उनकी मदद करने वाले दो गिरफ्तार आरोपितों के अलावा तीसरे शूटर को लेकर भी पूछताछ की गई।

गैंगस्टर टिल्लू ने खोले कई बड़े राज

जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया ने पूछताछ के दौरान शूटआउट की योजना से जुड़े कई राज बताए हैं। सूत्रों के अनुसार, उसने तीसरे शूटर के बारे में भी पुलिस को चौंकाने वाली जानकारी दी है। दरअसल जिस तीसरे शूटर को मोनू नेपाली का नाम दिया गया था, उसके बारे में यह जानकारी मिली है कि वह तो दो गुटों के बीच चली गोली में मारा जा चुका है।

इसका मतलब यह कोई और मोनू नेपाली है, जिसे गलत नाम देकर यहां भेजा गया था, ताकि मामला खुलने की स्थिति में एजेंसियों को चकमा दिया जा सके। उधर चूंकि जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया शूट आउट होने से पहले तक शूटर को लगातार फोन पर बातचीत करने की जानकारी मिली है, लिहाजा पुलिस उन नंबर की डिटेल भी निकाल रही है, ताकि टिल्लू नेटवर्क से जुड़े उन सभी लोगों तक पहुंचा जा सके, जो इस हत्याकांड में शामिल रहे हैं। टिल्लू मंडोली के हाई रिस्क वॉर्ड में बंद है, जहां पर काफी सख्ती होती है, लेकिन इसके बावजूद भी वह जेल से लाइव ऑपरेशन चला रहा था। ऐसे में मंडोली जेल की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

गैंगेस्टर हाशिमबाबा से भी हो चुकी है पूछताछ

इसके पहले सोमवार को भी शूटआउट मामले को लेकर पुलिस ने जेल में बंद गैंगेस्टर हाशिमबाबा से पूछताछ की थी। दरअसल हाशिम बाबा रोहिणी कोर्ट में मारे गए गैंगस्टर जितेंद्र गोगी का करीबी बताया जाता है। अपराध शाखा ने तिहाड़ जेल से रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ की। हाशिमबाबा तिहाड़ की जेल नंबर-1 के हाई रिस्क वार्ड में बंद है। हाशिम से तिहाड़ जेल में बंद अन्य गैंगस्टरों की गतिविधियों के बारे में भी सवाल पूछे जा रहे हैं। हाशिम बाबा ने मंडोली जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया को लेकर भी कई कई अहम राज उगले हैं।
हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X