Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. शिक्षा
  3. सुप्रीम कोर्ट ने नीट-पीजी की काउंसलिंग पर लगायी अंतरिम रोक

सुप्रीम कोर्ट ने नीट-पीजी की काउंसलिंग पर लगायी अंतरिम रोक

NEET PG की काउंसिलिंग पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा अंतरिम रोक लगा दी गई है।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

नई दिल्ली, 25 अक्टूबर। सुप्रीम कोर्ट ने नीट-पीजी की काउंसलिंग पर अंतरिम रोक लगा दी है। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली बेंच ने अंतरिम रोक लगाने का आदेश दिया।

पढ़ें :- Victoria Gowri Oath: चेन्नई में एल विक्टोरिया गौरी ने मद्रास उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में शपथ ली

आज सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से वकील अरविंद दातार ने कोर्ट से कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक ने एक नोटिफिकेशन में 25 अक्टूबर से नीट की काउंसलिंग शुरू करने का आदेश जारी किया है। उन्होंने कोर्ट से हस्तक्षेप करने की मांग की। इस पर केंद्र की ओर से एएसजी केएम नटराजन ने कहा कि अरविंद दातार को वह नोटिफिकेशन मिला है जो मेडिकल कॉलेजों के प्रिंसिपल को भेजे गए थे। उन्होंने कहा कि आज ही एक और नोटिफिकेशन जारी किया गया है जिसमें कहा गया है कि कोर्ट जब तक फैसला नहीं कर लेती तब तक काउंसलिंग शुरू नहीं होगी।

21 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा था कि वो ईडब्ल्यूएस के आरक्षण की पात्रता निर्धारित करने के लिए आठ लाख रुपये की वार्षिक आय के मानदंड को अपनाने के लिए क्या कवायद की। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली बेंच ने केंद्र से पूछा था कि ओबीसी और ईडब्ल्यूएस श्रेणियों के लिए समान मानदंड कैसे अपनाया जा सकता है जब ईडब्ल्यूएस आरक्षण में कोई सामाजिक और शैक्षिक पिछड़पान नहीं है।

कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा था कि आपके पास कुछ जनसांख्यिकीय या सामाजिक-आर्थिक डाटा होना चाहिए। आप हवा में सिर्फ आठ लाख नहीं निकाल सकते हैं। आप आठ लाख रुपये की सीमा को लागू करके असमान को समान बना रहे हैं। कोर्ट ने कहा था कि ईडब्ल्यूएस मानदंड एक नीतिगत मामला है, इसलिए इसकी संवैधानिकता को निर्धारित करने के लिए अपनाए गए कारकों को जानना जरूरी है।

दरअसल नीट परीक्षाओं के अखिल भारतीय कोटे में इस वर्ष ईडब्ल्यूएस के लिए दस फीसदी आरक्षण लागू करने को चुनौती देते हुए कई याचिकाएं दायर की गई हैं। याचिकाओं में इस वर्ष नीट में ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू नहीं करने का अंतरिम आदेश देने की भी मांग कई गई है।

पढ़ें :- लखीमपुर हिंसा मामले में आशीष मिश्रा को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम जमानत मिली

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com