1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. सेकंड डोज के लक्ष्य को पूरा करने के लिए 6 सितंबर को महा-अभियान 2.0 का होगा आगाज

सेकंड डोज के लक्ष्य को पूरा करने के लिए 6 सितंबर को महा-अभियान 2.0 का होगा आगाज

कोरोना संक्रमण को खत्म करने के लिए सिवान जिले के स्वास्थ्य विभाग द्वारा व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन कैंपेन चलाया जा रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

सिवान, 04 सितम्बर। जिले में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन कैंपेन चलाया जा रहा है।

पढ़ें :- Corona Vaccination : टीकाकरण को लेकर बच्चों में दिखा उत्साह, रात 8 बजे तक 40 लाख से ज्यादा बच्चों को लगाए गए टीके

वैक्सीनेशन के टारगेट को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए विभाग प्रतिबद्ध और संकल्पित है।इसी कड़ी में टीकाकरण महाअभियान के सफलता के बाद अब सेकंड डोज के लाभार्थियों के लिए महा अभियान 2.0 का आगाज छह सितम्बर को किया जाएगा। इस महा अभियान सेकंड डोज के ड्यू लाभार्थियों का विशेष रूप से टीकाकरण किया जाएगा। इसको लेकर राज्य स्तर से सिविल सर्जन और जिला पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है। महा-अभियान को लेकर जिला स्तर पर विभाग के द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई है। अभियान के सफल क्रियान्वयन को लेकर माइक्रो प्लान तैयार किया जा रहा है।

आशा और एएनएम के सहयोग से कोविन पोर्टल के अनुसार सेकंड उसके ड्यू लाभार्थियों की सूची तैयार की जा रही है। लक्ष्य पिछले मेगा टीकाकरण अभियान के समान होगी और टीकों की आवंटित संख्या रविवार शाम तक संबंधित जिलों में पहुंच जाएगी। इस बार दूसरी खुराक पर अधिक ध्यान केंद्रित कर उन्हें लक्षित करना है।

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा राज्य में छह माह में छह करोड़ व्यस्कों को कोविड-19 का टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ऐसे लाभार्थी जिन्होंने कोविड-19 पहली डोज उसके बाद 84 दिन या कोवैक्सीन की पहली डोज उसके बाद 28 दिन पूरे कर लिए हैं। उन्हें ससमय दूसरे डोज से अच्छादित करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए जिन लाभार्थियों ने 8 जुलाई से पहले कोविशिल्ड और 2 सितंबर से पहले कोवैक्सीन की प्रथम खुराक ली है। उन्हें ससमय दूसरी खुराक देना विभाग का लक्ष्य है।

कोविड टीकाकरण कार्य में लगे कर्मियों पदाधिकारियों के हौसला बढ़ाने के उद्देश्य से स्वास्थ विभाग के द्वारा जश्न-ए टीका कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। जश्न-ए-टीका कार्यक्रम के तहत सर्वश्रेष्ठ कर्मियों तथा पदाधिकारियों को उत्कृष्ट कार्य करने के लिए सम्मानित करने का प्रावधान किया गया है। इसी कड़ी में गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर को सेकंड डोज के लाभार्थियों को सर्वाधिक टीकाकरण करने वाले 15 सर्वश्रेष्ठ जिले को सम्मानित किया जाएगा।

पढ़ें :- Corona: ब्रिटेन से सीधे कोलकाता आने वाली उड़ानों पर बंगाल सरकार ने लगाई रोक

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...