1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. S&P ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर को 9.5 % पर बरकरार रखा, चीन की आर्थिक वृद्धि दर को घटाया

S&P ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर को 9.5 % पर बरकरार रखा, चीन की आर्थिक वृद्धि दर को घटाया

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर को 9.5 फीसदी पर बरकरार रखा है। लेकिन चीन की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को साल 2021 के लिए 30 आधार अंक घटाकर 8 फीसदी किया।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 28 सितंबर। वैश्विक रेटिंग एजेंसी स्टैंडर्ड एंड पूअर्स (S&P) ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को पहले के स्तर 9.5 फीसदी पर बरकरार रखा है। लेकिन चीन की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को साल 2021 के लिए 30 आधार अंक घटाकर 8 फीसदी कर दिया है।

पढ़ें :- यूपी विधानसभा चुनाव 2022 : समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी का हुआ गठबंधन, 'अबकी बार भाजपा साफ' का दिया नारा

रेटिंग एजेंसी ने मंगलवार को जारी अपने अनुमान में कहा कि कोविड-19 महामारी संकट से निपटने के लिए वैक्सीनेशन अभियान में तेजी से देश में आर्थिक गतिविधियों में इजाफा होने से अर्थव्यवस्था में सुधार हो रहा है। एजेंसी ने इसके संकेत देते हुए कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के बाद भारत तेजी से आर्थिक सुधार कर रहा है। साथ ही एजेंसी ने भारत के मजबूत आर्थिक सुधार की भी सराहना की।

वहीं इसके उलट एसएंडपी ने चीन की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को साल 2021 के लिए 30 आधार अंक घटाकर 8 फीसदी कर दिया है। रेटिंग एजेंसी के मुताबिक एशिया की सबसे बड़ी और दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था के नीतिगत फैसलों और रियल एस्टेट कंपनी एवरग्रांडे के डिफॉल्ट होने के डर से अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। इसलिए चीन की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान में कटौती की जा रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...