1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2021: देश के स्वच्छ शहरों में इंदौर 5वीं बार टॉप पर रहा

स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2021: देश के स्वच्छ शहरों में इंदौर 5वीं बार टॉप पर रहा

केंद्र सरकार की ओर से घोषित वार्षिक 'स्वच्छता सर्वेक्षण' में छत्तीसगढ़ को भारत का सबसे स्वच्छ राज्य घोषित किया गया। सर्वेक्षण में सबसे स्वच्छ गंगा शहर की श्रेणी में 'वाराणसी' को पहला स्थान मिला है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 20 नवंबर। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर को शनिवार को केंद्र के स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 पुरस्कार के तहत लगातार 5वीं बार भारत का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है। जबकि गुजरात का सूरत और आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा ने दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया है।

केंद्र सरकार की ओर से घोषित वार्षिक ‘स्वच्छता सर्वेक्षण’ में छत्तीसगढ़ को भारत का सबसे स्वच्छ राज्य घोषित किया गया। सर्वेक्षण में सबसे स्वच्छ गंगा शहर की श्रेणी में ‘वाराणसी’ को पहला स्थान मिला है। एक लाख से कम आबादी में देश के सबसे स्वच्छ शहर का पुरस्कार महाराष्ट्र के वीटा को दिया गया। इस श्रेणी में दूसरे और तीसरे स्थान पर महाराष्ट्र के लोनावला और सासवड शहर हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को विज्ञान भवन में देश के सबसे स्वच्छ शहरों और राज्यों को स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के पुरस्कार दिए गए। इस मौके पर राष्ट्रपति ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के परिणामों की पूरी जानकारी उपलब्ध कराने के लिए स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 रिजल्ट डेश बोर्ड और स्वच्छता गान- ‘हर धड़कन है स्वच्छ भारत की” लॉन्च किया गया।

स्वच्छ सर्वेक्षण के छठे संस्करण में कुल 4,320 शहरों ने हिस्सा लिया। शहरों को आमतौर पर स्टार रेटिंग के जरिए से चुना जाता है। 2018 में 56 के मुकाबले इस साल 342 शहरों को स्टार रेटिंग के तहत प्रमाण पत्र दिए गए। इसमें 9 पांच सितारा शहर, 166 तीन सितारा शहर, 167 एक सितारा शहर शामिल हैं।

इस मौके पर केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी, राज्य मंत्री कौशल किशोर, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग मौजूद रहे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X