Ismat Chughtai Saudai News in Hindi

पुस्तक समीक्षा : प्रेम के मानकों को परिभाषित करती इस्मत चुगताई की ‘सौदाई’

पुस्तक समीक्षा : प्रेम के मानकों को परिभाषित करती इस्मत चुगताई की ‘सौदाई’

पागल , झक्की, सनकी या फिर कहें सौदाई। जी हाँ आज हम रोती,बिलखती लड़कियों को अपनी कहानियों का हिस्सा कभी ना बनाने वाली उर्दू की मशहूर शायरा इस्मत चुग़ताई की कहानी ‘सौदाई ’ की बात करेंगे।सौदाई को कई भाषाओं में अनुवाद किया गया है। ‘सौदाई’ का हिंदी अनुवादन शकील सिद्द्की