Today History News in Hindi

आज भारत से हार के बाद पाकिस्तान से आजाद होकर पूर्वी पाकिस्तान बना था बांग्लादेश

आज भारत से हार के बाद पाकिस्तान से आजाद होकर पूर्वी पाकिस्तान बना था बांग्लादेश

जब टूट गया पाकिस्तानः 16 दिसम्बर 1971 वही तारीख है जब पाकिस्तान को भारत के हाथों न केवल शर्मनाक शिकस्त का सामना करना पड़ा बल्कि पूर्वी पाकिस्तान आजाद होकर बांग्लादेश के रूप में नया राष्ट्र बना। भारतीय सैनिकों के पराक्रम और रणनीतिक कौशल ने दुनिया के एक बड़े हिस्से का

“गाता रहे मेरा दिल” के गीतकार शैलेंद्र ने खड़ा किया था 800 गीतों का समृद्ध संसार

“गाता रहे मेरा दिल” के गीतकार शैलेंद्र ने खड़ा किया था 800 गीतों का समृद्ध संसार

दुनिया बनाने वाले क्या तेरे मन में समाईः जिस ‘तीसरी कसम’ को कल्ट फिल्म करार देते हुए मशहूर फिल्म निर्देशक ख्वाजा अहमद अब्बास ने इसे ‘सेल्युलाइड पर लिखी कविता’ बताया था, वही जब रिलीज हुई तो बुरी तरह फ्लॉप हो गयी थी। फिल्म को बनाने वाले मशहूर गीतकार शैलेंद्र अपनी

जब गृहमंत्री की बेटी का हो गया था अपहरण, पढ़ें 13 दिसम्बर का इतिहास

जब गृहमंत्री की बेटी का हो गया था अपहरण, पढ़ें 13 दिसम्बर का इतिहास

देश के लिए काला दिनः तारीख- 8 दिसंबर 1989, वीपी सिंह को देश की सत्ता संभाले लगभग एक सप्ताह बीता था। इस सरकार के गृहमंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद की बेटी रूबिया सईद उस दौरान कश्मीर में एमबीबीएस पूरा करने के बाद श्रीनगर के अस्पताल में इंटर्नशिप कर रही थीं। दोपहर

आज के दिन दिल्ली को बनाया गया था देश की राजधानी, पढ़ें 12 दिसंबर का इतिहास

आज के दिन दिल्ली को बनाया गया था देश की राजधानी, पढ़ें 12 दिसंबर का इतिहास

नई दिल्ली: भारत की राजधानी आज यानी 12 दिसंबर से पुराना नाता है। इसी दिन 1911 में कलकत्ता की जगह दिल्ली को देश की नई राजधानी बनाने का निर्णय लिया गया था। ब्रिटेन के राजा रानी उस दौरान भारत के दौरे पर आए थे और उन्होंने बाहरी दिल्ली के दरबारों

चंद्रमोहन जैन कैसे बने ओशो, अमेरिका में 65 हजार एकड़ में बनाया आश्रम

चंद्रमोहन जैन कैसे बने ओशो, अमेरिका में 65 हजार एकड़ में बनाया आश्रम

ओशो का जन्मः आलोचना और विवादों से जीवनपर्यंत घिरे रहने के बावजूद धार्मिक व वैचारिक रूढ़िवादिता के कटु आलोचक एवं तर्कवादी, आचार्य रजनीश का जन्म 11 दिसंबर 1931 को मध्य प्रदेश के कुचवाड़ा में हुआ। शुरू में उनका नाम चंद्रमोहन जैन था, जिनका बचपन से ही दर्शन की तरफ झुकाव

अपनी जिंदगी के आखिरी समय में अल्फ्रेड नोबेल को क्यों था पश्चाताप ? पढ़े आगे

अपनी जिंदगी के आखिरी समय में अल्फ्रेड नोबेल को क्यों था पश्चाताप ? पढ़े आगे

तबाही का सामान, शांति का संदेशः मानवता और शांति के लिए उल्लेखनीय कार्य करने वाली शख्सियतों को नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) से सम्मानित किया जाता है। दशकों से दुनिया भर में इस पुरस्कार की साख और उसका सम्मान रहा है। यह आश्चर्य की बात है कि जिस व्यक्ति के नाम

क्या आपको मालूम है संविधान सभा की पहली बैठक की अध्यक्षता किसने की थी?

क्या आपको मालूम है संविधान सभा की पहली बैठक की अध्यक्षता किसने की थी?

स्वर्णिम सफर की शुरुआतः 9 दिसंबर 1946 को संविधान सभा की पहली बैठक हुई। संविधान सभागृह (आज संसद भवन सेंट्रल हॉल) में आयोजित बैठक की अध्यक्षता सच्चिदानंद सिन्हा ने की। सभा को संबोधित करने वाले प्रथम वक्ता थे- जेबी कृपलानी। अलग राष्ट्र की मांग करते हुए मुस्लिम लीग ने इस

भारतीय नौसेना में शामिल हुई पहली पनडुब्बी

भारतीय नौसेना में शामिल हुई पहली पनडुब्बी

नई दिल्ली : आज का दिन देश की नौसेना के लिए काफी महत्वपूर्ण है। वर्ष 1967 में आज ही के दिन भारतीय नौसेना की ताकत को बढ़ाने के लिए पहली पनडुब्बी को नौसेना में शामिल किया गया था। इस पनडुब्बी का नाम कलवरी रखा गया था। इस पनडुब्बी को हिंद महासागर

अतंरिक्ष से पृथ्वी की सबसे सुंदर फोटो आज के ही दिन ली गई थी

अतंरिक्ष से पृथ्वी की सबसे सुंदर फोटो आज के ही दिन ली गई थी

7 दिसंबर का दिन नासा के इतिहास में महत्वपूर्ण माना जाता है। इसी दिन नासा ने चांद पर अपना अंतिम मैन मिशन किया था। इस मिशन का नाम Apollo 17 रखा गया था। इस मिशन में रोनाल्ड इवांस, यूजेन सेरनान व हैरिसन श्मिट को शामिल किया गया था। इस दल ने

5 दिसंबर को मुगल उत्तराधिकारी के ऐलान के बाद से शुरू हुई थी षडयंत्र की दास्तां

5 दिसंबर को मुगल उत्तराधिकारी के ऐलान के बाद से शुरू हुई थी षडयंत्र की दास्तां

मुगल इतिहास में उत्तराधिकार की लड़ाईः यह इंसानों के साथ इंसानियत के कत्ल की भी कहानी है। इन्हीं में से एक कहानी शुरू होती है, पिता शाहजहां के बाद उसके बेटों के खुद के बादशाह घोषित करने से। शाहजहां के इन बेटों में से मुराद बख्श ने खुद को 05

1971 के युद्ध में आज ही के दिन पाकिस्तानी नौसेना को परास्त किया था भारतीय नौसेना के वीरों ने

1971 के युद्ध में आज ही के दिन पाकिस्तानी नौसेना को परास्त किया था भारतीय नौसेना के वीरों ने

ऑपरेशन ट्राइडेंटः 1971 के युद्ध में पाकिस्तान की नौसेना पर भारतीय नौसेना की जीत की याद में हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है। ऑपरेशन ट्राइडेंट (Operation Trident) के तहत 4 दिसंबर 1971 को भारतीय नौसेना ने कराची स्थित पाकिस्तान नौसेना के हेडक्वार्टर पर हमला कर उसे

तीन दिसंबर की सुबह भोपाल के छोला रोड इलाके में परसा था मौत का मंजर

तीन दिसंबर की सुबह भोपाल के छोला रोड इलाके में परसा था मौत का मंजर

हर तरफ था मौत का मंजरः स्थान- भोपाल, साल- 1984, तारीख- 02/03 दिसंबर। कयामत की रात की दास्तां, उस मनहूस सुबह के चेहरे पर हमेशा के लिए चस्पा हो गयी। आधी रात को भोपाल स्थित यूनियन कार्बाइड नामक कंपनी के कारखाने से जहरीली गैस मिथाइल आइसो साइनाइड के रिसाव ने

भारत के इस राजा ने अफगानिस्तान में बनाई थी पहली निर्वासित सरकार

भारत के इस राजा ने अफगानिस्तान में बनाई थी पहली निर्वासित सरकार

‘आर्यन पेशवा’ के नाम से मशहूर भारत के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, क्रांतिकारी, समाजसेवी, दानवीर राजा महेंद्र प्रताप सिंह का जन्म 01 दिसंबर 1886 को हुआ। वे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के मुरसान रियासत के राजा थे। उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में उल्लेखनीय योगदान दिया। मुरासन के इस राजा

आज के दिन हुई थी जामिया मिलिया इस्लामिया की स्थापना

आज के दिन हुई थी जामिया मिलिया इस्लामिया की स्थापना

जामिया मिलिया इस्लामिया की स्थापनाः देश के प्रमुख शिक्षा केंद्रों में एक, जामिया मिलिया इस्लामिया 29 अक्टूबर 1920 को6 स्थापित हुआ। इसे केंद्रीय विश्वविद्यालय का स्तर हासिल है। इसके संस्थापकों में महमूद हसन देवबंदी, मोहम्मद अली जौहर, हाकीम अजमल खान, मुख्तार अहमद अंसारी, अब्दुल मजीद ख्वाजा और जाकिर हुसैन शामिल

व्यंग्य को नई रंगत देने वाले श्रीलाल शुक्ल ने आज के दिन दुनिया को कहा था अलविदा

व्यंग्य को नई रंगत देने वाले श्रीलाल शुक्ल ने आज के दिन दुनिया को कहा था अलविदा

राग दरबारी का रचयिताः कालजयी व्यंग्य उपन्यास ‘राग दरबारी’ के रचयिता श्रीलाल शुक्ल का 28 अक्टूबर 2011 में निधन हो गया। व्यंग्य लेखन से हिंदी साहित्य को नयी रंगत देने वाले श्रीलाल शुक्ल ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित थे। बेबाक बयानी के लिए मशहूर श्रीलाल शुक्ल उद्देश्यपूर्ण व्यंग्य लेखन के लिए