1. हिन्दी समाचार
  2. अन्य खबरें
  3. मनीष गुप्ता हत्याकांड : हत्या मामले में व्यापार मंडल ने ”एसपी” को सौंपा ज्ञापन

मनीष गुप्ता हत्याकांड : हत्या मामले में व्यापार मंडल ने ”एसपी” को सौंपा ज्ञापन

पीड़ित परिजनों को एक करोड़ का मुआवजा और सरकारी नौकरी दे सरकार - पंकज अग्रवाल

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

चित्रकूट, 30 सितम्बर। कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हुई निर्मम हत्या से प्रदेश के व्यापरियों में खासा आक्रोश है। गुरुवार को प्रांतीय आह्वान पर उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल चित्रकूट की युवा इकाई ने घटना के विरोध में वरिष्ठ नेता पंकज अग्रवाल के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम सम्बोधित ज्ञापन सौंपा।

पढ़ें :- सपा विधायक इरफान सोलंकी और परिजनों के हथियारों की जांच शुरू, पढ़ें

व्यापारियों ने मुख्यमंत्री से मनीष गुप्ता हत्याकांड की निष्पक्ष जांच कराकर दोषी पुलिस कर्मियों पर बर्खास्त कर कठोर सजा देने के साथ-साथ पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता और सरकारी नौकरी देने की मांग की है।

कानपुर के रियल इस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता की पुलिस पिटाई से मौत के बाद प्रदेश के व्यापारियों में भारी आक्रोश है। गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम सम्बोधित ज्ञापन पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल को सौंपकर चित्रकूट के युवा व्यापार मंडल ने हत्यारोपी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी कर कठोर से कठोर सजा देने की मांग की है।

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के मंडल उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल ने कहा कि जिस तरह से व्यापारी मनीष गुप्ता की पुलिस आधी रात होटल चेकिंग के नाम पर मारपीट की, वह निंदनीय हैं। पुलिस ने एक महिला का सुहाग छीन लिया और 4 साल के मासूम के बेसहारा कर दिया।

युवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष राहुल गुप्ता ने कहा कि मनीष गुप्ता की हत्या पुलिस विभाग के लिए कलंक है। मामले की न्यायिक या सीबीआई द्वारा जांच कराई जाए और हत्यारों को कठोर से कठोर सजा दी। इसके साथ ही पीड़ित परिवार को एक करोड़ का मुआवजा और पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए।

पढ़ें :- मैनपुरी में डिंपल यादव ने जसवंतनगर में किया रोड शो, पढ़ें पूरी खबर

महामंत्री अंकित पहरिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मण्डल ने हत्यारोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम सम्बोधित ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने आरोपी पुलिस वालों की बर्खास्त कर तत्काल गिरफ्तारी कर मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जानी चाहिए। इस मौके पर महामंत्री सुशील कक्का, प्रदीप गुप्ता, धर्मचंद्र गुप्ता, शुभम गुप्ता और सोनू गुप्ता आदि मौजूद रहे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...