1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. 5 दिसंबर को मुगल उत्तराधिकारी के ऐलान के बाद से शुरू हुई थी षडयंत्र की दास्तां

5 दिसंबर को मुगल उत्तराधिकारी के ऐलान के बाद से शुरू हुई थी षडयंत्र की दास्तां

आज के इतिहास में जानें कैसे शाहजहां के बाद मुगल उत्तराधिकारी के लिए हुआ था खूनी षडयंत्र।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

मुगल इतिहास में उत्तराधिकार की लड़ाईः यह इंसानों के साथ इंसानियत के कत्ल की भी कहानी है। इन्हीं में से एक कहानी शुरू होती है, पिता शाहजहां के बाद उसके बेटों के खुद के बादशाह घोषित करने से। शाहजहां के इन बेटों में से मुराद बख्श ने खुद को 05 दिसंबर,1657 को अपने पिता के उत्तराधिकारी होने का ऐलान किया था। हुआ यूं कि उस साल नवंबर में शाहजहां बीमार हुआ तो उसने अपने चार बेटों दारा शिकोह, शाह शुजा, औरंगजेब और मुराद बख्श में से सबसे लाड़ले दारा शिकोह को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया।

पढ़ें :- दुनिया का सबसे बड़ा सीरियल किलर, जिसे आज भी लोग डॉक्टर डेथ के नाम से पहचानते हैं

शाहजहां के अन्य बेटों और कई कट्टर मुस्लिम उलेमाओं और रईसों को धार्मिक विचारों में उदार दारा शिकोह पसंद नहीं था। उन्होंने कट्टर औरंगजेब का साथ दिया। कहानी लंबी है, पर हर जगह एक षडयंत्र पसरा है। औरंगजेब ने मुराद बख्श के साथ समझौता किया और फिर उसकी हत्या करा दी। शाह शुजा को भारत से भागना पड़ा और वह भी रहस्यमयी परिस्थितियों में मारा गया। दारा शिकोह का पीछा करते हुए औरंगजेब ने उसे काफी जलील कराया और उसकी भी हत्या हो गई। जिस पिता शाहजहां की बीमारी के बाद विश्वासघात की यह कहानी शुरू हुई, वह स्वस्थ हो चुका था, किंतु वह भी बेटे औरंगजेब की कैद में रहने और दुखद अंत का भागीदार बना।

अन्य महत्वपूर्ण घटनाएंः

1812: रूस में भारी पराजय के बाद नेपोलियन बोनापार्ट फ्रांस लौटा।
1917: रूस में नई क्रांतिकारी सरकार और रूस-जर्मनी युद्ध विराम।
1932: हिन्दी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री नादिरा का जन्म।
1943: जापानी हवाई जहाज ने कोलकाता पर बम गिराये।
1946: भारत में होमगार्ड संगठन की स्थापना।
1950: सिक्किम भारत का संरक्षित राज्य बना। यह बाद में 1975 में पूर्ण राज्य बना था।
1950: भारतीय लेखक अरबिंदो घोष का निधन।
1971: भारत ने बांग्लादेश सरकार को मान्यता दी।
1997: भगवान बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी यूनेस्को की विश्व धरोहर घोषित।
2003: चीन में पहली बार विश्व सुंदरी प्रतियोगिता आयोजित।
2013: दक्षिण अफ़्रीका के पूर्व राष्ट्रपति ‘भारत रत्न’ नेल्सन मंडेला का निधन।

और पढ़ें – 1971 के युद्ध में आज ही के दिन पाकिस्तानी नौसेना को परास्त किया था भारतीय नौसेना के वीरों ने

पढ़ें :- शास्त्रीय गायन में इस दिग्गज ने संगीत की पूरी धारा को किया था प्रभावित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...