1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड : ”देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल” से हटेगी पंजीकरण की बाध्यता, जानें पूरा मामला !

उत्तराखंड : ”देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल” से हटेगी पंजीकरण की बाध्यता, जानें पूरा मामला !

इस संबंध में मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन ने सोमवार को ''चारधाम यात्रा'' को लेकर एक समीक्षा बैठक की.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

उत्तराखंड,28 सितंबर – उत्तराखंड चारधाम यात्रा को लेकर ” देवस्थानम प्रबंधन कमेटी ” द्वारा जारी ”ई-पास” धारकों की ” देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल ” पर से पंजीकरण की बाध्यता एसओपी से हटाई जायेगी. इस संबंध में मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन ने सोमवार को ”चारधाम यात्रा” को लेकर एक समीक्षा बैठक की उसी दौरान ये निर्देश जरी किया.

पढ़ें :- Uttarakhand : उत्तराखंड सरकार ने तय की चार धाम आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या- SS संधू

आनंद बर्द्धन ने कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों का ” देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल ” और ” देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल ” पर पंजीकरण किया जा रहा है। पंजीकरण के लिए अभिलेख और शर्तें समान हैं, ऐसे में लगातार गफलत की स्थिति उत्पन्न हो रही है। आपको बता दें कि अपर मुख्य सचिव ने ” देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड की वेबसाइट व पोर्टल ” को खोलने में लगातार आ रही दिक्कतों का तत्काल निदान कराने पर भी जोर दिया है।

उन्होंने ” चार धामों के चेक प्वाइंटस पर ई-पास की जांच के लिए क्यूआर कोड की व्यवस्था करने”, ” देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर पंजीकरण के लिए एक फोन नंबर, एक बुकिंग व एक आधार नंबर की व्यवस्था करने, चारों धामों में कोविड प्रोटोकाल का कड़ाई से अनुपालन कराने, मंदिर खुलने के निर्धारित समय के दौरान मंदिर परिसर की वास्तविक क्षमता के आकलन को वीडियोग्राफी कराने के भी निर्देश दिए.”

आपको बता दें कि अपर मुख्य सचिव ने चार-धामों में रोजाना दर्शन के लिए यात्रियों की संख्या बढ़ाने की अनुमति देने के लिए उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।
बता दें कि इस बैठक में उन्हें जानकारी दी गई है कि ” वर्तमान में निर्धारित संख्या के सापेक्ष पूर्व से पंजीकृत यात्रियों में से अपेक्षाकृत कम यात्री चार धामों में दर्शन को आ रहे हैं।”

वहीं इस स्थिति में संबंधित जिलों के डीएम को आफलाइन पास जारी करने को कहा गया है। अपर मुख्य सचिव ने ई-पास निर्गत करने और जांच की व्यवस्था के सरलीकरण पर भी जोर दिया, ताकि यात्रियों को ई-पास के लिए पंजीकरण कराने में असुविधा न हो। बैठक में देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के सीईओ रविनाथ रमन समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

पढ़ें :- Char Dham Yatra : चार धाम यात्रा की अव्यवस्थाओं से विपक्ष के निशाने पर आए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज

व्यापार मंडल ने हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को लिखा पत्र

आपको बता दें कि नगर उद्योग व्यापार मंडल गुप्तकाशी ने हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर केदारनाथ धाम की यात्रा के लिए सभी तीर्थ यात्रियों को बिना ई-पास के यात्रा करने की प्रार्थना की है ।

पत्र में कहा गया है कि कोविड-19 के चलते अन्य लोगों के साथ साथ समस्त स्थानीय व्यापारी भी खासे नुकसान में है। अब उनके सामने रोजी-रोटी का संकट भी होने लगा है। ऐसे में ई-पास की बाध्यता को तुरंत समाप्त कर सभी तीर्थ यात्रियों के लिए केदारनाथ धाम की यात्रा की अनुमति प्रदान की जाए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...