1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. ब्राह्मण समाज के बढ़ते आंदोलन काे लेकर बढ़ी मांझी के आवास की सुरक्षा

ब्राह्मण समाज के बढ़ते आंदोलन काे लेकर बढ़ी मांझी के आवास की सुरक्षा

हालांकि उन्होंने इसके लिए माफी मांगी थी लेकिन उनकी टिप्पणी के खिलाफ राज्य के ब्राह्मण समुदाय का गुस्सा थमता नजर नहीं आ रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

पटना, 22 दिसंबर। हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) पार्टी के सुप्रीमो और प्रदेश के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।ब्राह्मण समाज में बढ़ते आक्रोश के मद्देनजर ऐसा किया गया है।मांझी के बयान के विरोध में बिहार के विभिन्न जिलों में आक्रोशित ब्राह्मणों का धरना-प्रदर्शन जारी है। साथ ही बिहार में जगह-जगह पर जीतन राम मांझी का पुतला दहन भी किया जा रहा है।

पढ़ें :- Bihar News:पुलिसवाले ने पत्नी को मिट्टी तेल डालकर जिंदा जलाया,आरोपी जवान बक्सर में है पोस्टेड

 

आवास पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात

इस क्रम में बुधवार को कुछ ब्राह्मण संगठनों ने मांझी के पटना स्थित आवास पर प्रदर्शन और पूजा पाठ करने की घोषणा की थी। इसे देखते हुए बिहार पुलिस ने मांझी के घर के बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। मांझी के आवास के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात हैं। पूरा इलाका छावनी में तब्दील कर दिया गया है। किसी प्रकार के विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस पूरी तरह से चाक चौबंद नजर आ रही है।

प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए आसपास बैरिकेडिंग की तैयारी रखी गई है। स्थानीय थाने के बड़े अधिकारी खुद पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं उल्लेखनीय है कि मांझी ने इसी सप्ताह ब्राह्मण समाज के लोगों के प्रति हरामी शब्द जो गाली होता है का प्रयोग किया था। हालांकि उन्होंने इसके लिए माफी मांगी थी लेकिन उनकी टिप्पणी के खिलाफ राज्य के ब्राह्मण समुदाय का गुस्सा थमता नजर नहीं आ रहा है।

 

पढ़ें :- Bihar News: गोपालगंज में ठेकेदार की हत्या, हाईवे किनारे मिली लावारिस हालत में बाइक और लाश

दिए गए बयान पर लगातार सफाई दे रहे हैं मांझी

गौरतलब है कि अपने दिए बयान के बाद से जीतन राम मांझी ट्वीट के जरिए माफ़ी मांग चुके हैं। साथ ही वो अब इस पर लगातार सफाई भी देते हुए नज़र आ रहे हैं। जीतन राम मांझी का कहना है कि हमने अपने बयान में कहा था कि उन लोगों से पूजा नहीं कराएं जो लोग दलितों के घर खाना नहीं खाते हैं।

मांझी ने कहा कि अब मैं उनको कहता हूं कि मैंने उनको हरामी कहा है जो दारु शराब पीते है, मांस मछली खाते है पढ़ने लिखने नहीं आता है। उनको मैं फिर से कह रहा हूं कि एक बार नहीं सैकड़ों बार उनको हरामी कहूंगा, जो अनेक कुकर्म करेगा उसको हम हरामी ही कहेंगे।

उसे हम ब्राह्मण नहीं कह सकते हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग मेरी जीभ काटने की बात कह रहे है उनको मैं यही कहूंगा कि इस मुद्दे पर हमारे समाज के लोग देखेंगे। मैं कुछ नहीं कहूंगा कोई मेरा जीव काटे मैं देखता रहूंगा। मैं डरने वाला नहीं हूं।

 

Bihar News : पूर्व मुख्यमंत्री की जुबान काटने की बात करने वाले नेता को पार्टी ने किया निष्कासित

पढ़ें :- तेजस्वी यादव ने जनसभा को किया संबोधित, कहा: हमारा गठबंधन ए टू जेड वाला है...

UP POLICE SI EXAM 2021 : पुलिस दरोगा भर्ती परीक्षा में ऑनलाइन सिस्टम हैकिंग गिरोह भांडाफोड़ के बाद आक्रोशित हुए छात्र

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...