1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में राज्य सरकार ने लोगों के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी – PM मोदी

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में राज्य सरकार ने लोगों के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी – PM मोदी

देश के नागरिकों की उर्जा जरूरतों को पूरा करने के साथ पर्यावरण के संरक्षण में भी ध्यान दिया जा रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

हिमाचल प्रदेश, 27 दिसंबर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को यहां ऐतिहासिक पड्डल मैदान पर जनसभा को मंडियाली बोली में संबोधित कर देवी-देवताओं और देवभूमि हिमाचल को नमन किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने उनके जीवन को एक अलग दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। प्रधानमंत्री ने मंडी की सेपू बड़ी व बदाणा व्यंजन का भी जिक्र किया।

पढ़ें :- PM-KISAN 10th Instalment: पीएम मोदी 1 जनवरी को पीएम-किसान की 10वीं किस्त करेंगे जारी

राज्य सरकार ने विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी

राज्य सरकार के चार साल के कार्यकाल को सफलतापूर्वक पूरा करने पर उन्होंने मुख्यमंत्री व प्रदेश की जनता को बधाई दी। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में राज्य सरकार ने लोगों के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है। कोरोना के बावजूद विकास कार्यों की गति थमने नहीं दी।

विलंब की विचारधारा वालों ने विकास के लिए दशकों इंतजार करवाया है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार से हिमाचल प्रदेश निरंत विकास के पथ पर अग्रसर है। केंद्र सरकार ने प्रदेश के लिए एम्स और चार मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए। प्रदेश की कनेक्टिवटी को सशक्त करने के लिए प्रयास जारी हैं।

देश में एक विचारधारा विलंब और दूसरी विचारधारा विकास की

पढ़ें :- IIT कानपुर के 54वें दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे PM मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में एक विचारधारा विलंब और दूसरी विचारधारा विकास की है। विलंब की विचाराधारा वालों ने हिमाचल प्रदेश के लोगों को दशकों तक इंतजार करवाया। इस वजह से अटल टनल के काम में सालों का विलंब हुआ। रेणुका परियोजना में भी तीन दशक का विलंब हुआ, जबकि हमारी विचारधारा विकास व तेज गति से काम करने की है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट से प्रदेश में युवाओं को रोजगार का मार्ग प्रशस्त हुआ है। चार पनबिजली परियोजनाओं से हिमाचल की आय बढ़ने के अलावा रोजगार के अवसर पैदा होंगे। ये सभी परियोजनाएं हिमाचल की आंकाक्षा और देश की आवश्यकता की पूर्ति करेंगे। रेणुका बांध से पैदा हुई बिजली से हिमाचल को हर वर्ष सवा सौ करोड़ की आय होगी।

पढ़ें :- गोवा के संकल्प और सपने देश को ऊर्जा दे रहे हैं: प्रधानमंत्री मोदी

गिरी नदी पर रेणुका बांध परियोजना के पूरा होने से होगा सीधा लाभ

रेणुका जी हमारी आस्था का केंद्र हैं। भगवान परशुराम व उनकी मां की स्नेह की प्रतीक इस भूमि से देश के विकास की एक धारा निकली है। गिरी नदी पर बन रही रेणुका बांध परियोजना के पूरा होने से एक बड़े हिस्से को सीधा लाभ होगा। इस प्रोजेक्ट की आय का बड़ा हिस्सा स्थानीय क्षेत्र के विकास पर खर्च होगा।

नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के नागरिकों का जीवन सरल बनाना हमारी सरकार की प्राथमिकता है, जिसमें बिजली की बहुत बड़ी भूमिका है। देश के नागरिकों की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के साथ पर्यावरण के संरक्षण में भी ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहाड़ों को प्लास्टिक से हो रहे नुकसान को लेकर सरकार सतर्क है और प्लास्टिक कचरे को रिसाइकिल करके इसका इस्तेमाल सड़क निर्माण में हो रहा है।

प्लास्टिक मुक्त रखने का निभाएं दायित्व – पीएम मोदी 

प्रधानमंत्री ने हिमाचल आने वाले सभी सैलानियों से आग्रह किया कि हिमाचल को स्वच्छ रखने व प्लास्टिक मुक्त रखने का दायित्व निभाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त करने के लिए सभी को सामूहिक प्रयास करने होंगे। नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हिमाचल में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं और केंद्र सरकार इस दिशा में काम कर रही है।

फूड इंडस्ट्री, फार्मिंग व फार्मा के क्षेत्र में भी काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल में फूड इंडस्ट्री के विस्तार की क्षमता और केंद्र सरकार यहां प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए डबल इंजन की सरकार काम कर रही है। केमिकल मुक्त कृषि उत्पाद आज विशेष आकर्षण का केंद्र बन रही है और हिमाचल इसमें बेहतरीन कार्य कर रहा है।

केमिकल मुक्त प्राकृतिक खेती कर रहे हैं डेढ़ लाख किसान 

राज्य में अनेक बॉयो विलेज बनाए गए हैं और प्राकृतिक खेती का रास्ता चुनने पर हिमाचल के किसान बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल के डेढ़ लाख से ज्यादा किसान केमिकल मुक्त प्राकृतिक खेती कर रहे हैं। उन्होंने देश भर के किसानों से भी हिमाचल की तर्ज पर प्राकृतिक खेती करने का आह्वान किया।

उन्होंने हिमाचल सरकार को वैक्सीन अभियान में अव्वल रहने पर बधाई दते हुए कहा कि यहां की सरकार व फ्रंट लाइन वर्करों ने अपना पूरा ध्यान एक-एक व्यक्ति को वैक्सीन देने में लगाया है। नरेन्द्र मोदी ने कहा कि राज्य सरकार ने लोगों के विकास के लिए नई योजनाओं को लागू किया गया है। केंद्र की योजनाओं का विस्तार किया गया है।

पढ़ें :- '82वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों' की बैठक को पीएम ने किया वर्चुअली संबोधित

बेटा-बेटियों को एक समान अधिकार देने का काम कर रही है सरकार 

हिमाचल सरकार को लोगों के विकास की चिंता है। हमारी सरकार बेटा-बेटियों को एक समान अधिकार देने पर काम कर रही है। तय किया है कि बेटियों की शादी की आयु भी बेटों की तरह एक समान होनी चाहिए। बेटियों की शादी की आयु 21 साल होने से उन्हें पढ़ने के लिए पूरा समय मिलेगा ओर वो अपना करियर भी बना पाएंगी। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार के इन प्रयासों के बीच एक दूसरा मॉडल दिख रहा है जो अपना स्वार्थ और अपना वोट बैंक देखता है।

जिन राज्यों में वो सरकार चला रहे हैं, उनमें प्राथमिकता गरीबों के कल्याण की बजाय खुद के कल्याण की है। उन राज्यों का वैक्सीनेशन रिकॉर्ड इस बात का गवाह है कि उन्हें अपने राज्यों के लोगों की चिंता नहीं है। प्रधानंमत्री ने कहा कि उनकी सरकार पूरी संवेदनशीलता व सतर्कता के साथ जनता की हर जरूरत को ध्यान में रखते हुए काम कर रही है।

3 जनवरी से शुरू होगा बच्चों का टीकाकरण अभियान 

सरकार ने तय किया है कि 15 से 18 साल के किशोरों को 3 जनवरी से वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हो जाएगा। उन्होंने विश्वास जताया कि इस अभियान में भी हिमाचल प्रदेश बेहतरीन कार्य करेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हिमाचल वीरों और अनुशासन की धरती है। केंद्र सरकार ने बीते सात सालों में सैनिकों व पूर्व सैनिकों के लिए जो काम किया है, उसका लाभ हिमाचल के अनेक लोगों को मिला है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...