1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. हरियाणा के 14 जिलों में पटाखों की बिक्री या इस्तेमाल पर पूरी तरह प्रतिबंध, नियम तोड़ने पर होगी कार्रवाई

हरियाणा के 14 जिलों में पटाखों की बिक्री या इस्तेमाल पर पूरी तरह प्रतिबंध, नियम तोड़ने पर होगी कार्रवाई

हरियाणा के 14 जिलों भिवानी, रोहतक, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, चरखी दादरी, झज्जर, जींद, करनाल, पलवल, महेंद्रगढ़, नूंह, पानीपत और रेवाड़ी में सभी तरह के पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

चंडीगढ़, 31 अक्टूबर। हरियाणा में पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल को लेकर हरियाणा राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिसमें कहा गया है कि दीपावली, गुरु पर्व और कार्तिक पूर्णिमा, क्रिसमस और नए साल पर अकसर लोग आतिशबाजी करते हैं। कोरोना के बीच आतिशबाजी के वायुप्रदूषण से सर्दी के मौसम में बुजुर्ग, बच्चों और सह-रुग्णता वाले लोगों को सांस की समस्या हो सकती है। इसके साथ-साथ ये कोरोना के मरीजों के स्वास्थ्य पर भी प्रभाव डाल सकता है।

पढ़ें :- Haryana : आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर फैसला

सरकारी प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए कहा कि NCR के सभी 14 जिलों भिवानी, रोहतक, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, चरखी दादरी, झज्जर, जींद, करनाल, पलवल, महेंद्रगढ़, नूंह, पानीपत और रेवाड़ी में सभी तरह के पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि उपरोक्त निर्देश राज्य के उन सभी शहरों/कस्बों पर भी लागू होंगे जहां पिछले साल नवंबर में वायु गुणवत्ता का औसत बेहद खराब और उससे ऊपर की श्रेणी का था।

सरकार ने कहा कि जिन शहरों/कस्बों में वायु गुणवत्ता मध्यम या कम है, वहां केवल हरे पटाखे बेचे जा सकेंगे। इसके अलावा इन शहरों/कस्बों में दीपावली और अन्य त्यौहारों पर पटाखे फोड़ने का समय सिर्फ रात 8 बजे से 10 बजे तक होगा। छठ पूजा पर पटाखे फोड़ने का वक्त सुबह 6 बजे-सुबह 8 बजे तक रहेगा। जबकि क्रिसमस और नए साल की पूर्व संध्या पर आतिशबाजी का समय आधी रात के आसपास 11.55 से रात 12:30 बजे रहेगा।

वहीं हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड उपरोक्त शहरों और कस्बों की सूची अलग से जारी करेगा। इसे अपनी वेबसाइट पर ऑनलाइन उपलब्ध कराएगा और जनता की जानकारी के लिए इसका प्रचार भी करेगा। जिन क्षेत्रों में पटाखों के इस्तेमाल और फोडऩे की अनुमति है वहां सामुदायिक फायर क्रैकिंग को बढ़ावा दिया जाएगा। इन विशेष क्षेत्रों की संबंधित अधिकारियों द्वारा पहले से पहचान कर ली जाए और इसकी जानकारी लोगों तक पहुंचाई जाए। उन्होंने कहा कि शादियों और बाकी मौकों पर केवल हरे पटाखों के इस्तेमाल की मंजूरी है।

हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 14 दिनों के लिए शहरों में अल्पकालिक निगरानी करेगा। प्रदूषण बोर्ड पटाखों को फोड़मे के संबंध में सीपीसीबी द्वारा प्रस्तावित वायु गुणवत्ता मानदंड मूल्यों के खिलाफ नियामक मानकों की अल्पकालिक निगरानी करेगा।

पढ़ें :- Haryana : हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर 'आप' में शामिल, तंवर के बहाने दलित वोट में एंट्री

हरियाणा सरकार की ओर से जारी निर्देशानुसार पटाखों की बिक्री केवल लाइसेंसधारी व्यापारियों के जरिए से ही होगी। फ्लिपकार्ट, अमेजन आदि सहित कोई भी ई-कॉमर्स वेबसाइट किसी भी ऑनलाइन ऑर्डर को स्वीकार नहीं करेगी। इस संबंध में संबंधित कंपनियों को भी निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...