1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा सरकार की प्राथमिकता : प्रधानमंत्री

उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा सरकार की प्राथमिकता : प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा हमारी सरकार की प्राथमिकता है। गुरूवार सुबह 11 बजे सिपेटः पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर का उद्घाटन होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि पिछले सात सालों में देशभर में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना में काफी प्रगति हुई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा हमारी सरकार की प्राथमिकता है। गुरूवार सुबह 11 बजे सिपेटः पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर का उद्घाटन होगा। यह संस्थान उन युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करेगा जो पेट्रोकेम और ऊर्जा क्षेत्रों से संबंधित पहलुओं का अध्ययन करना चाहते हैं।”

उन्होंने कहा, “मुझे खुशी है कि पिछले सात वर्षों में हमने पूरे भारत में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना में काफी प्रगति की है। कल बांसवाड़ा, सिरोही, हनुमानगढ़ और दौसा में मेडिकल कॉलेजों की आधारशिला रखी जाएगी।”

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 30 सितंबर को सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सिपेट (सीआईपीईटी): पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर का उद्घाटन करेंगे और राजस्थान के बांसवाड़ा, सिरोही, हनुमानगढ़ और दौसा जिलों में चार नए मेडिकल कॉलेजों की आधारशिला भी रखेंगे।

इन मेडिकल कॉलेजों को ‘‘जिला अथवा रेफरल अस्पतालों से जुड़े नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना’’ के लिए केन्द्रक-प्रायोजित योजना के तहत स्वीकृत किया गया है। चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना में पिछड़े एवं वांछित जिलों को प्राथमिकता दी जाती है। योजना के तीन चरणों के तहत, देश भर में 157 नए मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी गई है।

राजस्थान सरकार के साथ, भारत सरकार ने सिपेट : पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्था्न, जयपुर की स्थापना की है। यह आत्मनिर्भर है और पेट्रोरसायन तथा संबद्ध उद्योगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए समर्पित है। यह युवाओं को कुशल तकनीकी पेशेवर बनने के लिए शिक्षा प्रदान करेगा। इस अवसर पर केन्द्रीकय मंत्री मनसुख मंडाविया और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी मौजूद रहेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X