1. हिन्दी समाचार
  2. अन्य खबरें
  3. अमेरिका की पूर्व सांसद तुलसी गबार्ड ने बांग्लादेश में हिन्दू विरोधी हिंसा की निंदा की

अमेरिका की पूर्व सांसद तुलसी गबार्ड ने बांग्लादेश में हिन्दू विरोधी हिंसा की निंदा की

तुलसी गबार्ड ने कहा कि जेहादी लोगों के कृत्यों से साफ है कि वे ईश्वर से कितने दूर हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

अमेरिका की पूर्व सांसद तुलसी गबार्ड ने बांग्लादेश में हिन्दू विरोधी हिंसा की निंदा करते हुए कहा है कि यह दुखद है कि जेहादी लोग समझते हैं कि मंदिरों और मूर्तियों को जला कर और उन्हें नष्ट कर वे ईश्वर को प्रसन्न कर रहे हैं।

पढ़ें :- पूर्वी लद्दाख की बर्फीली पहाड़ियों पर चीन के लिए फिर मौसम बना 'असली दुश्मन'

बांग्लादेश में हिंसा के बारे में अपने वीडियो संदेश में तुलसी गबार्ड ने कहा कि जेहादी लोगों के कृत्यों से साफ है कि वे ईश्वर से कितने दूर हैं। बांग्लादेश में मंदिरों और भक्तों के खिलाफ हो रही हिंसा ह्रदय विदारक है। उन्होंने हरे कृष्ण सम्प्रदाय संस्थापक भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद की मूर्तियों को नष्ट किये जाने पर क्षोभ व्यक्त किया। उन्होंने धार्मिक कट्टरपंथियों को याद दिलाया कि ईश्वर प्रेम है और उसके सच्चे भक्त इस दुनिया में उस प्रेम को मूर्त रूप देते हैं।

अमेरिका की पहली हिन्दू सांसद रहीं तुलसी ने कहा, “बांग्लादेश की तथाकथित धर्मनिरपेक्ष सरकार की यह जिम्मेदारी है कि वह देश के हिंदू, ईसाई और बौद्ध आदि धार्मिक अल्पसंख्यकों की रक्षा करे।”

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...