1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. NDA की प्रवेश परीक्षा में लड़कियों के लिए UPSC ने ऑनलाइन पोर्टल खोला

NDA की प्रवेश परीक्षा में लड़कियों के लिए UPSC ने ऑनलाइन पोर्टल खोला

सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के तहत NDA की परीक्षा आयोजित करने वाले UPSC ने परीक्षा के लिए अपनी वेबसाइट (upsconline.nic.in) पर आवेदन का ऑनलाइन पोर्टल खोल दिया है। UPSC ने महिला उम्मीदवारों से 8 अक्टूबर तक आवेदन मांगे हैं। UPSC के मुताबिक इस परीक्षा में सिर्फ अविवाहित महिलाएं ही बैठ सकती हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 24 सितंबर। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अब लड़कियां सेना और नौसेना में शामिल होने के लिए नवंबर में होने वाली एनडीए की प्रवेश परीक्षा में बैठ सकेंगी। कोर्ट की सख्ती के बाद UPSC ने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और नेवल एकेडमी की प्रवेश परीक्षा (II) के लिए महिला उम्मीदवारों से आवेदन मांगने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। आवेदन करने की अंतिम तारीख 8 अक्टूबर, 2021 है। महिला उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट (upsconline.nic.in) पर आवेदन कर सकती हैं। ये पहली बार है जब महिलाएं NDA और नेवल एकेडमी की परीक्षा में हिस्सा लेंगी।

पढ़ें :- UPSC Mains Exam : UPSC मेंस की परीक्षा तय कार्यक्रम के मुताबिक होगी

सेना में अबतक 424 महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन मिला

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली बेंच ने 17 फरवरी, 2020 को सेना में महिलाओं के कमांडिग पदों पर स्थायी कमीशन देने का आदेश जारी किया था। कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा था कि महिलाओं को युद्ध के सिवाय हर क्षेत्र में स्थायी कमीशन दिया जाए। इसके बाद सेना में अब तक कुल 424 महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन दिया जा चुका है। अभी तक एनडीए और नेवल एकेडमी की प्रवेश परीक्षा में सिर्फ लड़कों को ही दाखिला मिलता रहा है। इस पर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर करके कहा गया कि ऐसा करना उन योग्य लड़कियों के अधिकारों का हनन है, जो सेना में शामिल होकर देश की सेवा करना चाहती हैं।

कोर्ट में केंद्र सरकार का तर्क

दरअसल राष्ट्रीय रक्षा अकादमी भारतीय सशस्त्र सेना की एक संयुक्त सेवा अकादमी है, जहां तीनों सेवाओं थलसेना, नौसेना और वायु सेना के सैनिक छात्रों को उनके संबंधित सेवा अकादमी के पूर्व-कमीशन प्रशिक्षण में जाने से पहले एक साथ प्रशिक्षित किया जाता है। ये महाराष्ट्र में पुणे के करीब खडकवासला में स्थित है। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने 8 सितंबर को एक हलफनामे में कोर्ट से मई, 2022 तक का समय देनी की अपील की थी, ताकि अधिसूचना जारी कर महिलाओं को एनडीए परीक्षा में बैठने की मंजूरी मिल सके। केंद्र सरकार का कहना था कि लड़कियों के लिए मापदंड तैयार किए जा रहे हैं और मई, 2022 में अधिसूचना जारी हो जाएगी। सरकार का कहना था कि तकनीकी दिक्कतों और इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव की जरूरत है, जिसकी वजह से इस साल की प्रवेश परीक्षा में लड़कियों को शामिल करना संभव नहीं होगा।

पढ़ें :- निर्धारित समय 5 सितंबर 2021 को होगी EPFO की परीक्षा

अविवाहित महिलाएं ही दे सकेंगीं एग्जाम

वहीं सरकार ने दो हफ्ते में मामले में अपनी योजना पेश करने का समय मांगा, लेकिन कोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए NDA और नेवल एकेडमी में महिलाओं के प्रवेश को स्थगित करने की केंद्र सरकार की याचिका को खारिज कर दी। कोर्ट का कहना था कि सेनाएं तेज़ी से काम करने में सक्षम हैं और इस बार भी रास्ता निकाल लेंगी। आर्म्ड फोर्सज जैसी सम्मानित सर्विस में महिलाओं को बराबर का अधिकार सुनिश्चित करने की दिशा में ये फैसला अहम होगा। कोर्ट ने नवंबर में होने वाली प्रवेश परीक्षा में ही महिला उम्मीदवारों को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू करने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के अनुपालन में एनडीए की परीक्षा आयोजित करने वाले संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने परीक्षा के लिए अपनी वेबसाइट (upsconline.nic.in) पर आवेदन का ऑनलाइन पोर्टल खोल दिया है। UPSC ने महिला उम्मीदवारों से 8 अक्टूबर तक आवेदन मांगे हैं। UPSC के मुताबिक इस परीक्षा में सिर्फ अविवाहित महिलाएं ही बैठ सकती हैं।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...