1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. Uttarakhand News Update : अगर आप के घर भी आती है कूड़े वाली गाड़ी तो हो जाएं सावधान

Uttarakhand News Update : अगर आप के घर भी आती है कूड़े वाली गाड़ी तो हो जाएं सावधान

Nainital Municipality - कूड़े के लिए अब देना होगा शुल्क।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Nainital Municipality : नैनीताल में नगरपालिका ने अपनी आय में वृद्धि के लिए एक नए नियम की शुरुआत की है। आपको बता दें कि अब नैनीताल नगरपालिका ने यह साफ़ कर दिया है कि लोगों को अपनी दुकान और घरों से कूड़ा उठवाने के लिए नगरपालिका को शुल्क देना होगा। नगरपालिका के इस फैसले को कुछ हदों तक बेहतर भी माना जा रहा है। कूड़ा उठाने के लिए लगने वाले इस शुल्क से बताया जा रहा है कि इससे नगरपालिका की आय में वृद्धि होगी।

पढ़ें :- तीन घेरों की सुरक्षा में बंद हुईं ईवीएम

 

नगरपालिका की आय में होगी वृद्धि 

सिर्फ इतना ही नहीं आंकड़ों पर नज़र डाले तो अब से लगने वाले इस शुल्क से नगरपालिका की आय में प्रतिवर्ष करीब 1 करोड़ रुपए की अतिरिक्त बढ़ोतरी होगी। वहीं आपको बता दें कि बीते दिनों नैनीताल में हुई नगरपालिका की बैठक में इस प्रस्ताव को पास भी करवा लिया गया है। वहीं बता दें कि नैनीताल के घर, बिल्डिंग, रेस्टोरेंट, होटल, स्कूल, दूकान, अस्पताल व अन्य जगहों से कूड़े की मात्रा के अनुसार इस पर लगने वाले शुल्क को वसूला जाएगा।

 

प्रति घर आय के हिसाब से तय होगी कीमत

नगरपालिका की हुई बैठक में कूड़े को लेकर लगने वाली कीमत पर भी चर्चा हुई। इस बैठक में जहां एक तरफ कूड़े की मात्रा के अनुसार कीमत तय करने का प्रस्ताव है वहीं दूसरी तरफ घरों की आय को ध्यान में रखते हुए यह कीमत वसूला जाएगा। आपको बता दें कि जिस घर की आय 5 हज़ार रुपए प्रति माह होगी उन्हें हर महीने 10 रुपए शुल्क देना होगा। वहीं जिसकी आय 5 से 10 हज़ार या 10 हज़ार से ज्यादा होगी उसे क्रमशः 60 रुपए और 100 रुपए प्रति माह कूड़े के लिए शुल्क देना होगा।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अवर अभियंता के पद पर चयनित अभ्यर्थियों को जारी किए नियुक्ति पत्र

 

बारात घर की कीमत हुई तय

एक तरफ जहाँ कूड़े उठाने को लेकर शुल्क रखने का प्रस्ताव रखा गया है। वहीं दूसरी तरफ बारात घर को लेकर भी शुल्क निर्धारित कर दिए गए हैं। अगर कोई व्यक्ति बारात घर की बुकिंग करता है तो उसे कार्यक्रम के हिसाब से 2 हज़ार रुपए शुल्क देना होगा। वहीं छोटे, बड़े या मध्यम रेस्टोरेंट के लिए यह शुल्क 300 रुपए, 800 रुपए, 2000 रुपए प्रति माह रखा गया है।

 

पढ़ें सुबह की 10 बड़ी ख़बरें –

पढ़ें :- Uttarakhand : विजय संकल्प यात्रा में रक्षा राज्यमंत्री भट्ट ने वीर नारियों को किया सम्मानित
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...