1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. बिहार : ”वॉक फॉर बेगूसराय” के साथ शुरू हुआ स्थापना दिवस समारोह, गिरिराज सिंह ने दी बधाई

बिहार : ”वॉक फॉर बेगूसराय” के साथ शुरू हुआ स्थापना दिवस समारोह, गिरिराज सिंह ने दी बधाई

सरकारी भवनों को आकर्षक तरीके से सजाया गया है. बेगूसराय वासी हमेशा से सौभाग्यशाली और गौरवान्वित रहे हैं.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

बेगूसराय, 02 अक्टूबर। जीवनदायनी गंगा सहित सात नदियों से सिंचित बिहार की औद्योगिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक राजधानी और राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की जन्मभूमि बेगूसराय जिला आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के ऐतिहासिक अवसर पर 49 साल का हो गया। इस अवसर पर केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह और  भाजपा मीडिया सेल के प्रदेश संयोजक विधायक कुंदन कुमार ने महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को नमन करने के बाद बेगूसराय जिला वासियों को स्थापना दिवस की बधाई दी है।

पढ़ें :- बिहार विधान परिषद की 11 सीटों पर लगभग तय हुए जदयू के उम्मीदवार

इस अवसर पर सभी सरकारी भवनों को आकर्षक तरीके से सजाया गया है, जिला भर में विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रमों की शुरुआत पुलिस लाइन से गांधी स्टेडियम तक कोरोना टीकाकरण के थीम पर आधारित वॉक फॉर बेगूसराय के साथ किया गया। वॉक फॉर बेगूसराय में डीएम अरविंद कुमार वर्मा, एसपी अवकाश कुमार, डीडीसी सुशांत कुमार, डीपीआरओ भुवन कुमार समेत जिला स्तर के तमाम पदाधिकारी, सामाजिक कार्यकर्ता, बुद्धिजीवी, विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि के साथ ही बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे भी शामिल हुए।

पुलिस लाइन से शुरू प्रभात फेरी लोहिया नगर फ्लाईओवर, ट्रैफिक चौक, कचहरी रोड होते हुए गांधी स्टेडियम पहुंचा। बीच रास्ते में भी बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। मौके पर डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने कहा कि बेगूसराय जिला आज अपने स्थापना की 49वीं वर्षगांठ मना रहा है। बेगूसराय का इतिहास एवं सांस्कृतिक धरोहर अत्यंत ही गौरवमयी रहा है।

यह जिला वीर एवं विद्वान सपूतों की भूमि रहा है। बेगूसराय वासी हमेशा से सौभाग्यशाली और गौरवान्वित रहे हैं। हम सबका सौभाग्य है कि सभी दृष्टि से महत्वपूर्ण इस जिला में काम करने का मौका मिला है। बेगूसराय वासियों के सुंदर, सुखमय एवं सुखद भविष्य की कामना करता हूँ। साथ ही बेगूसराय जिला समेकित विकास के पथ पर अग्रसर होकर सर्वोच्च शिखर पर विराजमान हो, इसकी भी कामना करता हूँ।

वॉक फॉर बेगूसराय के बाद स्वर्ण जयंती पुस्तकालय परिसर स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष भजन-कीर्तन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डीएम एवं एसपी समेत बड़ी संख्या में लोगों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा और लाल बहादुर शास्त्री के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया।

पढ़ें :- बिहार में विप की सीटों का बंटवारा, 13 पर भाजपा और 11 पर जदयू लड़ेगी चुनाव

दूसरी ओर स्थापना दिवस को यादगार बनाने के लिए पूरे जिले में कोरोना टीकाकरण महाअभियान शुरू किया गया तथा छह सौ से अधिक जगहों पर टीकाकरण सुबह आठ बजे से चल रहा है। डीएम ने बताया कि जिला भर में छह सौ से अधिक जगहों पर टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया है। जिसमें कोरोना टीका का प्रथम एवं द्वितीय दोनों डोज दिया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि 1870 में अनुमंडल बना बेगूसराय, दो अक्टूबर 1972 को मुंगेर को विभाजित कर एक जिला के रूप में बेगूसराय अस्तित्व में आया। 2011 की जनगणना के मुताबिक बेगूसराय की आबादी 29 लाख 70 हजार 541 थी, जो अब तक बढ़कर 36 लाख को पार कर चुकी है। बेगूसराय की जनसंख्या वृद्धि दर 2.3 प्रतिशत वार्षिक है।

राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की यह जन्मभूमि और बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री डॉ. श्रीकृष्ण सिंह की कर्मभूमि बेगूसराय साहित्य, संस्कृति और औद्योगिक रूप से अपने शुरुआत के दिनों से समृद्ध रहा है। बीच के दिनों में इसके उत्तरोत्तर विकास में कुछ कमी जरूर आई, लेकिन अब एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नेतृत्व वाली सरकार बेगूसराय को अपनी पुरानी ऊंचाई पर पहुंचा रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...