1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. अपराध को लेकर क्या कहते हैं एनसीआरबी के नए आकड़े , पढ़े पूरी खबर !

अपराध को लेकर क्या कहते हैं एनसीआरबी के नए आकड़े , पढ़े पूरी खबर !

बुधवार को NCRB ने देश में हुए अपराधों की लिस्ट जारी की है. जारी किए गए आकडों में 2019 की तुलना में2020 में महिलाओं और बच्चों के साथ होने वाले अपराधों में कमी देखी गई है.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

एन.सी.आर.बी द्वारा बुधवार को देश में हुए अपराधों की रिपोर्ट पेश की गई. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो की वर्ष २०२० के आकड़े दर्शाते हैं कि पिछले वर्ष महिलाओं और बच्चों से जुड़े अपराधों में कमी आई है. वहीं महिलाओं के साथ होने वाले दुष्कर्म के मामले में भी कुछ कमी देखी गई है. एन.सी.आर.बी द्वारा जारी आकड़ो के मुताबिक देश भर में कुल 66 लाख 01 हज़ार  285 मामले दर्ज किए गए. जिनमें भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत आने वाले मामलों की कुल संख्या 42 लाख  54 हज़ार  356 दराज हुई. वहीं 23 लाख 46 हज़ार 929 मामले (एस.एल.एल ) यानी स्पेशल एंड लोकल लाज के अंतर्गत दर्ज की गई है.

पढ़ें :- Japan : क्वॉड शिखर सम्मेलन में नेताओं ने कहा- वैश्विक शांति के लिए भारत-अमेरिका की दोस्ती अहम

आपको बता दें वर्ष 2020 में अपराध के मामलों में वर्ष 2019 की तुलना में  कुल 28 % की बढोतरी दर्ज की गई है। वर्ष 2020 में हत्याओं के मामले में भी वृद्धि दर्ज की गई. आपको बता दें की2020 रोज 80 हत्याओं के हिसाब से कुल 29,193 लोगों का कत्ल किए गए। देश में वर्ष 2020 के अंदर प्रतिदिन औसतन इन  हत्याओं के मामले में राज्यों की सूची में उत्तर प्रदेश सबसे आगे रहा। वहीं,हत्या के बाद अपहरण की सबसे ज्यादा वारदात उत्तर प्रदेश में ही दर्ज हुईं।

हत्या के मामले में जहाँ वृद्धि पाई गई वहीं अपहरण के मामलों में 19 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई. एनसीआरबी के आंकड़ें बताते हैं कि अपहरण के मामलों में 2019 की तुलना में 2020 में कुल 19 प्रतिशत की कमी आई है। वर्ष 2019 में जहां एक तरफ  1,05,036 एफआईआर दर्ज हुई थीं। वहीं  अपहरण के ये मामले  2020 में 84,805 दर्ज किए गए. जबकि आंकड़े बताते हैं कि 2020 में अपहरण के सबसे ज्यादा  मामले 12,913 उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए। इसके बाद दूसरे नंबर पर  पश्चिम बंगाल में 9,309, फिर महाराष्ट्र में 8,103, बिहार में 7,889, और मध्य प्रदेश में 7,320 मामले दर्ज किए गए। आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में अपहरण के कुल 4,062 मामले दर्ज किए गए हैं। उसने बताया कि इनमें अधिकतर यानी 56,591 पीड़ित बच्चे थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...