1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Farm Bill : बीते एक साल में किसानों ने क्या खोया? क्या होगी किसानों की अगली रणनीति राकेश टिकैत ने किया स्पष्ट

Farm Bill : बीते एक साल में किसानों ने क्या खोया? क्या होगी किसानों की अगली रणनीति राकेश टिकैत ने किया स्पष्ट

किसान आंदोलन (Farmer Protest) को आज एक वर्ष पूरा हो गया। ऐसे में किसान नेता राकेश टिकैत ने किसान संगठनों की अगली रणनीति (Farmers Strategy) क्या रहने वाली है इस बात पर अपना रुख स्पष्ट किया।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 26 नवंबर : केंद्र सरकार की ओर से लागू किए गए कृषि कानून के खिलाफ ‘किसान आंदोलन‘ (Farm Protest) को आज 1 साल (One Year) पूरे हो गए। किसान आंदोलन के एक वर्ष पूरे होने पर किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान किसानों ने पिछले एक वर्षों में क्या कुछ खोया या क्या कुछ नया हासिल किया इस सवाल पर राकेश टिकैत ने बेबाकी से अपनी बात रखी।

 

बीतें एक वर्ष में किसानों ने क्या कुछ खोया ?

किसान आंदोलन (Kisan Andolan)को एक वर्ष पूरे होने पर मीडिया ने जब राकेश टिकैत से पूछा कि पिछले एक वर्षों में किसानों ने क्या कुछ खोया या क्या कुछ नया हासिल किया है ? तो इस सवाल पर टिकैत ने कहा कि, हमने इस आंदोलन के दौरान पिछले एक वर्षों में कुछ भी नहीं खोया है। बल्कि हमनें इस आंदोलन के दौरान एकजुटता पाई है। उन्होंने कहा कि घर पर रहकर आंदोलन कैसे चलता है ? वैचारिक रूप से आंदोलन कैसे चलता है यह सब कुछ हमनें पिछले एक वर्षों में किसान आंदोलन के दौरान सीखा है।

किसान आंदोलन की वर्षगांठ : किसानों की महापंचायत आज, दिल्ली बॉर्डर पर लगाए गए बैरियर

 

किसान नेता ने केंद्र सरकार से पूछे सवाल

राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत के दौरान सरकार पर भी सवाल दागे। उन्होंने कहा कि किसानों के सभी उत्पाद आधे दामों पर बिक रहे हैं तो इस हिसाब से हमारी जीत कहां हुई ? हमें तो MSP पर गारंटी चाहिए थी जो सरकार ने अभी तक नहीं दिया है। टिकैत ने साफ किया कि सरकार ने किसानों की मांग पर अभी भी विचार नहीं किया है।

टिकैत ने कहा कि, यही कारण है कि हम अपना यह आंदोलन अभी भी जारी रखे हुए हैं। उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि केंद्र सरकार जब तक किसानों की 6 मांगों को नहीं मान लेती तब तक किसान घर वापस नहीं जायेंगे।

 

29 तारीख को होनी है ट्रैक्टर रैली

29 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है। संसद के शीतकालीन सत्र के पहले ही दिन केंद्र सरकार तीनों नए कृषि कानून (Farm Law) को रद्द करने के लिए संसद भवन के दोनों सदनों में पेश करेगी। ऐसे में किसान संगठनों ने यह साफ कर दिया है कि वो संसद भवन तक ट्रैक्टर रैली का आयोजन करेंगे। ऐसे में ट्रैक्टर रैली को लेकर मीडिया ने जब किसान नेता राकेश टिकैत से सवाल किया तो उन्होंने बताया कि किसानों का 29 तारीख को ट्रैक्टर रैली का कार्यक्रम है।

उन्होंने कहा कि हम खुले रास्तों से ट्रैक्टर लेकर संसद तक जाएंगे। रास्तों को लेकर जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि, सरकार ने एफिडेविट दे रखा है कि सड़के खुली हुई हैं। ऐसे में हम उन्हीं खुले रास्तों की मदद से अपने ट्रैक्टर रैली का आयोजन करेंगे। हालांकि आपको बता दें कि ट्रैक्टर रैली को लेकर परमिशन है या नहीं इस बात की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

 

बेहद ही कम शब्दों में पढ़ें 10 बड़ी ख़बरें 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X