1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. “First STD Call In India” : क्या आपको मालूम है पहली STD call कब और कहां से लगाई गई थी? पढ़ें आगे

“First STD Call In India” : क्या आपको मालूम है पहली STD call कब और कहां से लगाई गई थी? पढ़ें आगे

आज के इतिहास में जानें देश में पहली STD Call कब और कहां से लगाई गई थी? पढ़ें पूरी ख़बर

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

History Of STD Call : एसटीडी (STD) सर्विस की शुरुआतः 25 नवंबर 1960 को देश में पहली बार एसटीडी सेवा यानी सब्सक्राइबर ट्रंक डायलिंग की शुरुआत हुई। कानपुर से लखनऊ के बीच पहली बार इस सेवा की शुरुआत हुई, जब कानपुर से लखनऊ के बीच कॉल लगाया गया। आगे चलकर देश के दूसरे तमाम शहर और जिले एसटीडी के जरिये आपस में जुड़ते गए। देश में यह उस क्रांति की शुरुआत थी जो अलग-अलग समय से होकर आज तकनीकी युग में तब्दील हुआ।

भारत की इस महिला ने सबसे पहले उड़ाया था एयरबस A300 विमान

Trunk Call की जगह शुरू की गई थी STD Calls 

एसटीडी की शुरुआत से पहले टेलीफोन की बातचीत के लिए ट्रंक कॉल सेवा हुआ करती थी। इसमें टेलीफोन उपभोक्ता पहले ऑपरेटर को फोन लगाता था और उपभोक्ता जिस व्यक्ति से बातचीत करना चाहता है, ऑपरेटर उससे बातचीत कराता था। एसटीडी सेवा बहाल होने के बाद उपभोक्ता ऑपरेटर की मदद के बिना सीधे इच्छुक व्यक्ति से बातचीत करने में सक्षम हुआ। एसटीडी के आने से देश में किसी भी स्थान पर किसी भी समय टेलीफोन पर दो व्यक्तियों की आपस में बातचीत सरल हो गयी। इस सेवा के लिए तमाम स्थानों के लिए एसटीडी कोड जारी हुआ। एसटीडी सेवा के इस्तेमाल के लिए निर्धारित स्थान के एसटीडी कोड के साथ उपभोक्ता का टेलीफोन नंबर डायल करना होता था। एसटीडी कोड के साथ टेलीफोन नंबर मिलाकर 10 अंक होते थे।

एसटीडी सेवा शुरू होने का नतीजा यह हुआ कि जगह-जगह आईएसडी पीसीओ बूथ खुलने लगे। 1990 के दशक में टेलीफोन बूथ बड़ी संख्या में रोजगार का जरिया बन गए और शहरों से लेकर कस्बों तक हर जगह इसकी सुविधा मिलने लगी। हालांकि दो दशक के भीतर मोबाइल फोन की क्रांति ने उतनी ही तेजी से इस कारोबार को समेटकर रख दिया। एक रिपोर्ट के मुताबिक 2008 में देशभर में बूथों की संख्या सबसे अधिक 50 लाख तक पहुंच गयी लेकिन 2015 तक इनकी संख्या केवल 5.77 लाख रह गयी।

The Gateway of India : जानें किस ब्रिटिश राजा के शासन की याद में बनाया गया था गेटवे ऑफ इंडिया

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X