1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. वीर सावरकर की इंदिरा गांधी ने की थी तारीफ, आप भी पढ़ें वो पत्र

वीर सावरकर की इंदिरा गांधी ने की थी तारीफ, आप भी पढ़ें वो पत्र

वीर सावरकर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा दिये बयान के बाद राजनीतिक घमासान शुरू हो गया है। इस घमासान में आप इंदिरा गांधी को वो पत्र देखें जब उन्होंने वीर सावरकर की खुद तारीफ की थी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर: भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक कार्यक्रम के दौरान बयान दिया कि वीर सावरकर ने महात्मा गांधी के कहने पर अंग्रेजी हुकूमत को दया याचिका दी थी। कुछ देर बाद ही रक्षा मंत्री के इस बयान पर सियासी घमासान शुरू हो गया है। सभी राजनीतिक दलों के नेता इस बात को लेकर अपनी अपनी टिप्पणी देने लगे हैं। फिलहाल ये माहौल कुछ 2019 में महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों की तरह ही बनता नजर आ रहा है। उस समय भी भाजपा ने दावा किया था कि यदि वह महाराष्ट्र की सत्ता में आती है तो पार्टी सावरकर को भारत रत्न देने की सिफारिश करेगी। इस बयान के बाद कांग्रेस ने भी अपनी ओर से कई सवाल वीर सावरकर मुद्दे पर दागे थे। लेकिन उस वक्त इंदिरा गांधी की एक चिट्ठी से कांग्रेस को विवाद में शांत होना पड़ा था।

पढ़ें :- Punjab Elections 2022 : पंजाब में BJP की सरकार आने पर 3 महीने में लागू करेगी आयुष्मान भारत योजना- राजनाथ सिंह

आज भी कुछ 2019 जैसी ही राजनैतिक आबोहवा बनने लगी है। एक तरफ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपना बयान दिया है तो दूसरी ओर कांग्रेस व अन्य दल भी हमलावर हो गए हैं। छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि वर्ष 1925 में जेल से निकलने के बाद सावरकर ने अंग्रेजों के फूट डालो और राज करो के एजेंडे पर कार्य किया। इतना ही नहीं उन्होंने ही दो राष्ट्र की बात सबसे पहले कही थी।

एक समय इंदिरा गांधी ने की थी सावरकर की तारीफ

2019 में कांग्रेस वीर सावरकर का विरोध कर रही थी। तभी तत्कालीन केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने एक ट्वीट किया इस ट्वीट में उन्होंने इंदिरा गांधी के एक सरकारी पत्र को सांझा किया था। 1980 के इस पत्र में उस समय की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने वीर सावरकर की तारीफ की थी। इस पत्र के बाद ही 2019 में कांग्रेस बैकफुट पर आई थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...