1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. पीएम मोदी का अमेरिकी दौरा क्यों है खास ? पढ़ें पूरी खबर !

पीएम मोदी का अमेरिकी दौरा क्यों है खास ? पढ़ें पूरी खबर !

चार दिवसीय अमेरिकी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ होगी पहली मुलाकात . दोनों नेताओं के बीच होगी कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 22 सितंबर। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद सामान्य होती स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज से अपने चार दिवसीय अमेरिकी दौरे पर जायेंगे. आपको बता दें कि पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच ये पहली मुलाकात होगी. बता दें कि दोनों नेताओं के बीच कई महत्वपूर्ण विषयों पर द्विपक्षीय वार्ता भी होगी. भारत सरकार की ओर से जारी बयान में ये कहा गया है कि पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच अफगानिस्तान में विकास , कट्टरवाद , उग्रवाद और सीमा विवाद साथ ही सीमा पार से लगातार हो रही आतंकी गतिविधियों को रोकने पर चर्चाएँ होंगी. वहीं आपको बता दें कि इस द्विपक्षीय चर्चा में भारत -अमेरिकी वैश्विक साझेदारी को और अधिक बढ़ाने तथा चीन की आक्रामकता और आतंकी संगठन को पाकिस्तान के समर्थन जैसे महत्वपूर्ण विषय पर भी चर्चा संभव है. वहीं पीएम मोदी के इस दौरे में विदेश मंत्री एस जयशंकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और अन्य वरिष्ठ अधिकारी साथ जायेंगे.

पढ़ें :- Hyderabad : दुनिया को लीड कर सकते हैं भारतीय युवा, पीएम मोदी ने कहा- आज दुनिया महसूस कर रही है 'India Means Business'

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति पीएम मोदी की शुक्रवार को अमेरिकी व्हाईट हाउस में सबसे पहले मेजबानी करेंगे उसके बाद क्वाड देशों के पहले शिखर सम्मलेन की मेजबानी करेंगे. इस सम्मलेन में प्रधानमंत्री मोदी के अलावां जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ,आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मारिसन भी मुख्य रूप से शामिल होंगे. आपको बता दें कि पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच ये पहले मुलाकात है पर इससे पहले दोनों वैश्विक नेताओं के बीच कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर कई बार फोन पर बातचीत हो चुकी है. पीएम मोदी अपने इस दौरे में पीएम मोदी UNGA के 76 वें सत्र को भी संबोधित करेंगे. आपको बता दें कि भारत सरकार के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया कि अमेरिकी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच द्विपक्षीय वार्ता के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार व निवेश बढ़ाने, रक्षा और सुरक्षा सहयोगों को और मजबूत करने और स्वच्छ उर्जा पर रणनीतिक साझेदारी जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चाएँ हो सकती हैं.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को अमेरिका रवाना होने से पहले एक बयान जारी कर कहा कि मैं संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन के निमंत्रण पर 22-25 सितंबर तक यूएसए के दौरे पर रहूँगा। अपनी यात्रा के दौरान, मैं राष्ट्रपति बाइडन के साथ व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी और पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करुंगा। मैं हमारे दोनों देशों के बीच विशेष रूप से विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग के अवसरों का पता लगाने के लिए उप राष्ट्रपति कमला हैरिस से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं।
यह शिखर सम्मेलन इस साल मार्च में हमारे वर्चुअल शिखर सम्मेलन के परिणामों का जायजा लेने और भारत-प्रशांत क्षेत्र के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण के आधार पर भविष्य की गतिविधियों के लिए प्राथमिकताओं की पहचान करने का अवसर प्रदान करेगा।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से अपने चार दिवसीय अमेरिका दौरे पर जा रहे हैं। कोरोना संकट की वजह से छह महीने बाद पीएम मोदी की यह विदेश यात्रा बेहद खास मानी जा रही है। पीएम मोदी बुधवार सुबह अमेरिका के लिए रवाना होंगे और 26 सितंबर को भारत लौटेंगे। बता दें पीएम मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ पहली व्यक्तिगत बैठक होगी।

पढ़ें :- Madhya Pradesh : भारत में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप्स ईकोसिस्टम- प्रधानमंत्री मोदी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...