1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड : उच्च स्तरीय समिति चार धाम से जुड़े किसी भी व्यक्ति का अहित नहीं होने देगी : मनोहर कांत ध्यानी

उत्तराखंड : उच्च स्तरीय समिति चार धाम से जुड़े किसी भी व्यक्ति का अहित नहीं होने देगी : मनोहर कांत ध्यानी

समिति सभी के विचारों को सुनने के बाद जनहित के निर्णय लेगी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

ऋषिकेश, 08 अक्टूबर। देवस्थानम बोर्ड को लेकर गठित उच्च स्तरीय समिति चार धाम से जुड़े किसी भी व्यक्ति का अहित नहीं होने देगी। समिति सभी के विचारों को सुनने के बाद जनहित के निर्णय लेगी। यह बात शुक्रवार को उच्च स्तरीय समिति के कार्यालय उद्घाटन के उपरांत समिति के अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री मनोहर कांत ध्यानी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही।

पढ़ें :- Uttarakhand : उत्तराखंड में मौसम साफ, चारधाम यात्रा दोबारा शुरू

उन्होंने कहा कि बोर्ड का कार्य सभी के विचारों को सुनने के बाद समस्याओं का समाधान करना है। देवस्थानम बोर्ड का गठन स्थानीय समस्याओं के समाधान के साथ चारों धामों की धार्मिकता व सामाजिकता को बनाए रखने एवं इन धामों में आने वाले यात्रियों को सुख-सुविधा उपलब्ध करवाएं जाने के साथ उनकी सेवा करने के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग यात्रियों की आस्थाओं से विमुख होकर आर्थिक लाभ के लिए अपनी नैतिकता को भूल गए हैं, क्योंकि उनके सामने वर्तमान में आर्थिक स्वार्थ आड़े आ रहा है।

उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि धार्मिक मामलों में यदि राजनीति प्रवेश करेगी, तो उसके दुष्परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि बोर्ड का गठन 1941 में चारों धामों के विकास को लेकर किया गया था, जिस पर सभी को विश्वास करना चाहिए।

मनोहर कांत ध्यानी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गठित देवस्थानम बोर्ड में सभी की भावनाओं को समाहित करते हुए उनके हक हकूकों पर किसी भी प्रकार का डाका नहीं डाला जाएगा। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि कुछ लोग वहां रहकर रोजी-रोटी जरूर कमा रहे हैं, लेकिन वह वहां के हक-हकूक धारी नहीं है। उन्होंने कहा कि उनका हक सिर्फ तप्त कुंड तक ही सीमित है जहां 600 वर्ष पहले मंदिर की स्थापना की गई थी, जहां उन लोगों का कार्य मात्र यात्रा पर आने वाले यात्रियों की सेवा करना है।

हिन्दुस्थान समाचार

पढ़ें :- उत्तराखंडः चारधाम के वीवीआईपी दर्शन पर प्रतिबंध

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...