1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने ये क्यों बोल दिया कि अखिलेश यादव को आज नींद नहीं आएगी

यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने ये क्यों बोल दिया कि अखिलेश यादव को आज नींद नहीं आएगी

भारतीय जनता पार्टी ने समाजवादी पार्टी के चार विधान परिषद सदस्यों को तोड़ा

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

समाजवादी पार्टी (सपा) के चार विधान परिषद सदस्य (एमएलएसी) टूटकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गये हैं। सपा के धुरंधरों को साथ लाने के बाद प्रसन्न प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि आज तो अखिलेश यादव को नींद नहीं आएगी। इसके साथ उन्होंने भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं से कहा कि वह बूथ से लेकर शीर्ष स्तर के जिन भी नेताओं को भाजपा से जोड़ सकते हैं, जोड़ें। उन्होंने कहा कि भाजपा की रीति-नीति और मोदी-योगी के कार्यों से प्रभावित होकर इन नेताओं ने भाजपा के साथ आने का निर्णय लिया है। इनके आने से पार्टी मजबूत होगी। यह लोग विपक्ष को और कमजोर करेंगे।

भाजपा के राज्य मुख्यालय दफ्तर पर पार्टी के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा की मौजूदगी में बुधवार को सपा के पश्चिम उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेता रहे एमएलसी नरेन्द्र भाटी, बलिया से पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चन्द्रशेखर के परिवार व एमएलएसी रविशंकर सिंह, गोरखपुर से सपा एमएलसी सीपी चंद्र और बुंदेलखण्ड क्षेत्र झांसी से सपा की एमएलसी रमा निरंजन और बड़ी संख्या में उनके समर्थकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा की समाजवादी पार्टी पर यह मनोवैज्ञानिक तौर पर बड़ी जीत मानी जा रही है। भाजपा नेताओं के चेहरे पर यह साफ दिखाई भी दे रहा था।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आज सपा मुखिया अखिलेश यादव को नींद नहीं आएगी। उन्होंने पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं से आग्रह किया कि वह अपने पुराने सपा कार्यकर्ताओं को भाजपा से जोड़ें। सपा से चुन-चुन कर लोगों को लाएं। स्वतंत्रदेव ने कहा कि भाजपा में शामिल होने वालों को लगता है कि मोदी-योगी के नेतृत्व में देश और प्रदेश सुरक्षित है। कानून का राज है। जहां कानून का राज है, वहां शांति है। वहीं विकास है। आज यह सब लोग सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। इसलिए सपा, बसपा और कांग्रेस छोड़कर लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कंठी माला पहनकर, तिलक लगाकर पशुपतिनाथ मंदिर से बाहर निकलकर उन्होंने भारत की संस्कृति, सभ्यता का संदेश दुनिया को दिया। कुम्भ में प्रधानमंत्री ने समाज के अंतिम व्यक्ति का पैर पखारकर उसका सम्मान किया। भाजपा और अन्य में यही अंतर है।

पत्रकारों ने भाजपा अध्यक्ष से जब पूछा कि अखिलेश यादव ने कहा है कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बहुत खराब बना है, उस पर चलने से पेट और कमर में दर्द हो जाएगा, इस पर उन्होंने कहा कि वह(अखिलेश) आराम करें। उन्हें बाहर निकलने की जरूरत नहीं है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना के दौरान जिस प्रकार से सपा के लोग घरों में बैठे थे, उन्हें अब भी घर में ही आराम करना चाहिए। भाजपा का गरीब से गरीब कार्यकर्ता मजदूरों की सेवा में लगा था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X