1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Corona Alert : स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को पत्र लिखकर कहा कोरोना के मामले बढ़ रहें हैं अस्पतालों को तैयार रखें

Corona Alert : स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को पत्र लिखकर कहा कोरोना के मामले बढ़ रहें हैं अस्पतालों को तैयार रखें

कोरोना के मामलों में आई तेजी से स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं बढ़ गईं हैं। स्वास्थ्य विभाग ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर कहा है कि वो कोरोना के लिए तैयार रहें।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 10 जनवरी। कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की चिंताएं बढ़ा दी है। मामले की गंभीरता को देखते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखा है।

पढ़ें :- साल 2007 में पैदा हुए सभी बच्चों को लगाया जाए कोरोना रोधी टीका- स्वास्थ्य मंत्रालय

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों को तेजी से बदलती स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है।

सोमवार को भेजे गए अपने पत्र में राजेश भूषण ने कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर में 23 प्रतिशत एक्टिव मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराने की आवश्यकता पड़ी थी। तीसरी लहर में यह संख्या 5-10 प्रतिशत है लेकिन परिस्थितियां तेजी से बदल रही हैं, इसलिए राज्यों को अपनी पूरी तैयारी रखनी चाहिए। राज्यों को सलाह दी गई है कि वे अपने अस्पतालों में कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए सभी इंतजाम सुनिश्चित करें। बेड की संख्या, ऑक्सीजन सिलेंडर, दवाइयों की कहीं कोई कमी नहीं होनी चाहिए।

टीकाकरण केंद्र का समय बढ़ाने की दी सलाह

बूस्टर डोज शुरू करने के बाद टीकाकरण केन्द्रों पर बढ़ते दवाब को देखते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को टीकाकरण केन्द्र रात 10 बजे तक खुला रखने की सलाह दी है।

पढ़ें :- Corona Vaccination: टीकाकरण अभियान को एक साल पूरा, प्रधानमंत्री ने स्वास्थकर्मियों के कार्यों को सराहा

सोमवार को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अवर सचिव मनोहर अगनानी ने सभी राज्यों के प्रमुख सचिवों को पत्र लिख कर इस सम्बन्ध में कदम उठाने को कहा है।

पत्र में मनोहर अगनानी ने लिखा है कि 15-18 साल के उम्र के बच्चों का टीकाकरण शुरू होने के साथ ही अब बुजुर्गों और हेल्थ वर्करों को बूस्टर डोज देने की भी शुरुआत हो गई है। ऐसे में टीकाकरण केन्द्रों में दवाब बढ़ा है। टीकाकरण केन्द्रों का समय रात आठ बजे से बढ़ा कर रात दस बजे तक करना चाहिए। इससे टीकाकरण कार्यक्रम को और गति मिलेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...