1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. बिहार में इन 5 दवाओं से होम आइसोलेशन में ही मिल रही कोरोना को मात, 5-7 दिन में ठीक हो रहे संक्रमित

बिहार में इन 5 दवाओं से होम आइसोलेशन में ही मिल रही कोरोना को मात, 5-7 दिन में ठीक हो रहे संक्रमित

इन दवाओं में कोरोना से होने वाले सभी लक्षणों का इलाज है। जिसमें बुखार खांसी नाक से लेकर गले तक के इंफेक्शन के साथ चेस्ट इनफेक्शन तक की दवाएं भी हैं। स्वास्थ विभाग की तरफ से होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को जो दवाएं दी जा रही हैं उनमें कुल 73 गोलियां हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

बिहार : पूरे देश में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर से भयावह तरीके से बढ़ता जा रहा है। बिहार में भी आंकड़े लगातार बढ़ते जा रहे हैं लेकिन बिहार में 73 गोलियों के वार से कोरोना को मात मिल रही है। होम आइसोलेशन वाले संक्रमित मरीज 5 से 7 दिनों में ही कोरोना को हरा कर ठीक हो जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जा रही 73 गोलियों के पैक से वायरस के अटैक से होने वाली परेशानियां ठीक हो रही हैं। लेकिन अभी तक वायरस का नहीं बल्कि इसके अटैक से होने वाली बीमारियों का ही इलाज हो रहा है। कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीनेशन व मास्क दोनों आवश्यक है। बिहार के आंकड़े बता रहे हैं कि नए वेरिएंट के फैलने के बावजूद भी 7 दिन में ही संक्रमित कोरोना को मात दे रहे हैं। 5 दवाओं के कॉन्बिनेशन की यह गोलियां  संक्रमितों को राहत देने का काम कर रही हैं। इन दवाओं में कोरोना से होने वाले सभी लक्षणों का इलाज है। जिसमें बुखार खांसी नाक से लेकर गले तक के इंफेक्शन के साथ चेस्ट इनफेक्शन तक की दवाएं भी हैं। स्वास्थ विभाग की तरफ से होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को जो दवाएं दी जा रही हैं उनमें कुल 73 गोलियां हैं।

पढ़ें :- बिहार के औरंगाबाद में छह सहेलियों ने एक साथ निगला जहर, तीन की मौत

यह है 5 दवाएं 

पेरासिटामोल टेबलेट 500 एमजी की 20 गोलियां, एजीथ्रोमाइसिन 500 एमजी की तीन गोलियां, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स कैप्सूल की 10 गोलियां, विटामिन सी की 20 गोलियां और जिंक टेबलेट की 20 गोलियां

आपको बता दें स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दी जा रही इन गोलियों से कोरोना संक्रमित ओं को काफी राहत मिल रही है। इसके अतिरिक्त करोना की किट भी डाक विभाग के माध्यम से घर-घर भेजी जा रही है। जिसके लिए भी स्वास्थ विभाग ने निर्देश जारी कर दिया है। दवा पैकेट तैयार करने का जिम्मा बीएमआईएसएल को दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का कहना है कि होम आइसोलेशन में मरीजों के लिए स्वास्थ्य विभाग की पांच प्रकार की आवश्यक दवाइयां और उपयोगी किट तैयार की गई है जिसे मरीजों के घर भेजा जा रहा है।

पढ़ें :- राजद सुप्रीमो लालू यादव को दिल्ली एम्स ने भर्ती करने से किया इनकार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...