1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने कुशीनगर हादसे पर जताया दुख

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने कुशीनगर हादसे पर जताया दुख

बीती रात कुशीनगर में शादी के दौरान कुआं की रस्म के दौरान बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे में 13 की मौत हो गई। जिस पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दुख व्यक्त किया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 17 फरवरी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुए हादसे पर दुख जताया है।

पढ़ें :- कुशीनगर में महायान परम्परा के अनुसार बुद्ध की पूजा करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

राष्ट्रपति कोविन्द ने ट्वीट कर कहा, “उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुए हादसे में महिलाओं और बच्चों समेत कई लोगों की मृत्यु का दुःखद समाचार सुनकर व्यथित हूं। इस दर्दनाक हादसे में अपने परिजनों को खोने वाले सभी शोक-संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहन संवेदनाएं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”

पढ़ें :- प्रधानमंत्री मोदी पांच हजार बौद्ध भिक्षुओं को सम्बोधित करेंगे, 20 बौद्ध भिक्षुओं को देंगे 'चीवर दान

उपराष्ट्रपति नायडू ने ट्वीट कर कहा, “कुशीनगर में हुई दुर्घटना की खबर से अत्यंत व्यथित हूं। हताहतों के शोक संतप्त परिवारों के दुःख में शामिल हूं। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना करता हूं। विश्वास है स्थानीय प्रशासन तत्परता से राहत सहायता उपलब्ध करा रहा है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुआ हादसा हृदयविदारक है। इसमें जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। इसके साथ ही घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। स्थानीय प्रशासन हर संभव मदद में जुटा है।”

पढ़ें :- कुशीनगर: वैश्विक गरिमा व प्रोटोकाल के अनुरूप करें तैयारी : योगी आदित्यनाथ

क्या हुआ था कुशीनगर में

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में बुधवार रात शादी की खुशियों के बीच एकदम से मातम पसर गया। जिले के नेबुआ नौरंगिया थाना क्षेत्र के नौरंगिया टोला गांव में रात को हल्दी रस्म के दौरान कुएं पर रखा स्लैब टूटने से 25 से अधिक महिलाएं, युवतियां व बच्चे कुएं में गिर गए। इनमें से 13 की मौत हो गयी। हादसे में कई लोग घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नौरंगिया के स्कूल टोला निवासी परमेश्वर कुशवाहा के पुत्र अमन की गुरुवार को शादी है। वैवाहिक रस्म के क्रम में बुधवार की रात गांव की महिलाएं और युवतियां अपने परिवार के बच्चों के साथ हल्दी की रस्म अदायगी करने कुएं पर गए थीं। परंपरा के मुताबिक यहां नयन माता (कुआं) की पूजा होती है। कुआं पर होने वाली यह रस्म ”मटकोड़” कही जाती है। महिलाएं यहां मटकोड़ करने गई थीं। महिलाएं, युवतियां नृत्य कर खुशी का इजहार करने लगीं। इनके साथ बच्चे भी हो लिए। इसी दौरान उनमें से कुछ युवतियां स्लैब (जगत) पर गईं और भार अधिक होने के कारण वह टूट गया। इसके बाद कई महिलाएं और युवतियां कुएं में गिरने लगीं। इनके साथ बच्चे भी खिंचते चले गए और यह हादसा हो गया। हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हैं। मरने वालों में महिलाएं, किशोरी और बच्चे शामिल हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...