1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड में अध्यात्म के साथ पर्यटन के भी पर्याप्त अवसर : योगी आदित्यनाथ

उत्तराखंड में अध्यात्म के साथ पर्यटन के भी पर्याप्त अवसर : योगी आदित्यनाथ

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तराखंड में देशभर के लोगों को आकर्षित करने की कई जगहें मौजूद हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

हरिद्वार, 05 मई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तराखंड देवभूमि है, जो सभी भारतवासियों को अपनी ओर आकर्षित कर सकती है। कौन ऐसा भारतीय होगा जो चार धामों के दर्शन के लिए लालायित नहीं होता होगा? प्रदेश और पूरी दुनिया के अंदर हर हिन्दू की इच्छा होती है कि हम लोग इस पवित्र धाम के साथ जुड़ें।

पढ़ें :- UP News: 7 साल के बच्चे के बयान पर पिता को मिला 10 साल का कैद,बच्चे ने पिता को बताया माँ का कातिल

यह बात योगी ने गुरुवार को धर्मनगरी हरिद्वार में उत्तर प्रदेश सरकार के नवनिर्मित लग्जरी होटल भागीरथी आवास का लोकार्पण के दौरान कही। इस दौरान उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, पूर्व केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक सहित कई साधु संत कार्यक्रम में मौजूद रहे।

आध्यात्मिक पर्यटन केंद्र बन सकता है उत्तराखंड

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि उत्तराखंड में आध्यात्मिक पर्यटन के साथ-साथ ईको-टूरिज्म के भी पर्याप्त अवसर हैं और यह लाखों युवाओं के लिए फायदेमंद होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में हर मौसम में पर्यटन की संभावनाएं हैं, कुछ लोग यहां श्रद्धालु-भक्त के रूप में आते हैं, तो कुछ पर्यटक के रूप में यहां आते हैं।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि आज हम जब भारत के विकास की बात करते हैं तो उसका मतलब भौतिक विकास से नहीं बल्कि आध्यात्मिक विकास से भी है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में 2014 के बाद चार धाम की सड़कें हो या पूरे उत्तराखंड को जोड़ने वाली सड़के हों आज हर तरफ सड़कों का जाल फैल गया है। उन्होंने कहा कि पहाड़ों में लोगों के लिए रेल देखना एक सपना है। 125 किमी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल मार्ग 2023 तक या 2024 की शुरुआत में भक्तों के लिए चार धाम यात्रा के तहत विभिन्न स्थानों पर जाने के लिए शुरू होगा।

पढ़ें :- UP News: वाराणसी एयरपोर्ट पर पेपरलेस वर्क सिस्टम का हुआ शुभारंभ,अब आपका चेहरा ही होगा बोर्डिंग पास

उल्लेखनीय है कि होटल भागीरथी आवास में 100 कमरे हैं। इनमें 88 कमरे डीलक्स और 12 कमरे वीआईपी रूम हैं। इसी के साथ पर्यटक आवास में सेंट्रलाइज्ड एसी, 3 स्पजि, रेस्टोरेंट और दो बैंक्वेट हॉल की सुविधा है। इसमें एक बैंक्वेट हॉल में 100 लोगों की गेदरिंग कैपेसिटी और दूसरे बैंक्वेट हॉल में डेढ़ सौ लोगों की गेदरिंग की कैपेसिटी है। होटल भागीरथी के पास ही गंगा नदी है। होटल के साथ ही एक छोटा सा मंदिर भी बनाया गया है। भागीरथी पर्यटक आवास में लगी पेंटिंग्स में हिंदू धर्म की संस्कृति को दर्शाया गया है। इन पेंटिंग्स को ललित कला अकादमी से खरीदा गया।

होटल भागीरथी के लोकार्पण के साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को हरिद्वार में मौजूद अलकनंदा गेस्ट हाउस की चाबी सौंपी। अलकनंदा गेस्ट हाउस यूपी सिंचाई विभाग के अधीन था। अब इस पर उत्तराखंड का स्वामित्व हो गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...