1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. ऐसा वैज्ञानिक जिसने अपने समय में ऐसी भविष्यवाणियां कीं, जो सौ वर्षों बाद सही साबित हुई

ऐसा वैज्ञानिक जिसने अपने समय में ऐसी भविष्यवाणियां कीं, जो सौ वर्षों बाद सही साबित हुई

आज के इतिहास में जानें ऐसे वैज्ञानिक के बारे में जिसने मानव इतिहास को बदल कर रख दिया और अपनी भविष्यवाणियों से लोगों को हैरान कर दिया। सौ वर्षों बाद उनकी भविष्यवाणियां सही साबित हुईं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

ऐसा वैज्ञानिक जिसने मानव इतिहास को बदल दियाः एक ही समय में भूत, भविष्य और वर्तमान को देखने वाला ऐसा वैज्ञानिक जिसने अपने समय में ऐसी हैरतअंगेज भविष्यवाणियां कीं, जो सौ वर्षों बाद सही साबित हुई। इस वैज्ञानिक ने खुद कई ऐसी खोजें कीं जो मानव के बौद्धिक समृद्धि की मिसाल हैं। क्रोशिया में 1856 में पैदा होने वाले निकोला टेस्ला ने टेस्ला कॉइल्स, बिजली से चलने वाली मोटर, एक्स-से तकनीक, एसी करेंट की खोज की। अदालती फैसले के बाद रेडियो के आविष्कार का श्रेय भी उन्हें दिया गया।

पढ़ें :- हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के पहले सुपरस्टार थे कुंदनलाल सहगल

निकोला टेस्ला आविष्कारक होने के साथ मैकेनिकल, इवेक्ट्रिकल और फिजिकल इंजीनियर भी थे। बल्ब के आविष्कारक थॉमस एडिसन के मातहत काम करने वाले टेस्ला का आगे चलकर उनसे मतभेद हो गया। एडिसन डायरेक्ट करेंट (डीसी) को बेहतर मानते थे जिसे एक जगह से दूसरी जगह ले जाने मुश्किल था जबकि टेस्ला अल्टरनेटिव करेंट (एसी) को बेहतर मानते थे क्योंकि इसे कहीं भी ले जाना आसान था। इसके बाद दोनों के बीच प्रतिद्वंद्वता शुरू हो गयी।

निकोला टेस्ला ने इलेक्ट्रिकल सर्किट की खोज की जिसकी मदद से कम करेंट और हाई वोल्टेज बिजली पैदा की जाती है। टेस्ला कॉइल्स से नाम से नाम से मशहूर इस तकनीक का इस्तेमाल रेडियो, टीवी और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में होता है। उन्होंने 1887 में ही एसी से चलने वाला मोटर बनाया था जिसे अपने समय से बहुत आगे का आविष्कार माना गया। 06 जनवरी 1943 को इस महान वैज्ञानिक का निधन हो गया। टेस्ला के निधन के बाद रेडियो के आविष्कारक मार्कोनी के पेटेंट को अमेरिका की सुप्रीम कोर्ट ने अमान्य ठहराते हुए रेडियो के आविष्कार का पेटेंट निकोला टेस्ला को दे दिया।

अन्य अहम घटनाएंः

1851ः ब्रिटिश काल में भारत में सेवाएं देने वाले आईसीएस और तुलसीदास व विद्यापति के साहित्यिक अवदान को प्रतिपादिक करने वाले पहले अंग्रेज विद्वान जॉर्ज अब्राहम ग्रियर्सन का जन्म।

पढ़ें :- दुनिया का सबसे बड़ा सीरियल किलर, जिसे आज भी लोग डॉक्टर डेथ के नाम से पहचानते हैं

1893ः स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और जानी-मानी सामाजिक कार्यकर्ता जानकी देवी बजाज का जन्म।

1935ः गोवा की पहली महिला मुख्यमंत्री शशिकला काकोदकर का जन्म।

1950ः अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त बाल श्रम विरोधी कार्यकर्ता शांता सिन्हा का जन्म।

1967ः जाने-माने फिल्म अभिनेता इरफान खान का जन्म।

1966ः महान फिल्म निर्देशक बिमल रॉय का निधन।

पढ़ें :- शास्त्रीय गायन में इस दिग्गज ने संगीत की पूरी धारा को किया था प्रभावित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...