Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. चंडीगढ़ में IAS यशपाल गर्ग ने हार्ट अटैक के मरीज को CPR देकर बचाई जान, खूब हो रही तारीफ

चंडीगढ़ में IAS यशपाल गर्ग ने हार्ट अटैक के मरीज को CPR देकर बचाई जान, खूब हो रही तारीफ

Heart attack:चंडीगढ़ में IAS यशपाल गर्ग की बहादुरी की इन दिनों लोग खूब तारीफ कर रहे हैं,वर्ष 2008 बैच के इस वरिष्ठ आईएएस अधिकारी का एक विडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है,जिसमे वो एक हार्ट अटैक के मरीज को CPR देकर जान बचाते नजर आ रहे है.

By रेनू मिश्रा 

Updated Date

Chandigarh news:चंडीगढ़ में IAS यशपाल गर्ग की बहादुरी की इन दिनों लोग खूब तारीफ कर रहे हैं,वर्ष 2008 बैच के इस वरिष्ठ आईएएस अधिकारी का एक विडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है,जिसमे वो एक हार्ट अटैक के मरीज को CPR देकर जान बचाते नजर आ रहे है,

पढ़ें :- Punjab News: बटाला में कार-ट्रक की टक्कर में एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत, शादी से लौटते वक्त हुआ हादसा

प्राप्त जानकारी के मुताबिक,मंगलवार को चंडीगढ़ के सेक्टर-41 निवासी जनक लाल सुबह चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड (सीएचबी) के दफ्तर पहुंचे थे, जहां उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह वहीं गिर पड़े.इस बीच स्वास्थ्य सचिव यशपाल गर्ग को जब इसका पता चला तो तुरंत वहां पहुंचे को जनक लाल को सीपीआर देकर उनकी जान बचाई,अब उन्हें सेक्टर-16 स्थित सरकारी मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल में निगरानी में रखा गया है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने ट्विटर पर इस घटना का वीडियो शेयर करते हुए चंडीगढ़ के स्वास्थ्य सचिव यशपाल गर्ग की तारीफ करते हुए कहा कि हर इंसान को सीपीआर सीखना चाहिए


यशपाल गर्ग इस घटना को लेकर मीडिया से बातचीत में बताया, ‘मैं सीएचबी में अपने केबिन में था. इस बीच जनसंपर्क विभाग के निदेशक राजीव तिवारी मेरे चेंबर में दौड़े हुए आए और बताया कि सीएचबी सेक्रेटरी के चेंबर में एक शख्स गिर गया है. मैं वहां गया और उसे सीपीआर दिया.’

गर्ग ने साथ ही बताया कि उनके पास सीपीआर देने का कोई अनुभव या ट्रेनिंग नहीं थी. उन्होंने हाल ही में एक न्यूज़ चैनल पर एक डॉक्टर को मरीज को सीपीआर देकर बचाते हुए देखा था. वह बताते हैं कि टीवी पर दिखाई गई वह घटना दो महीने पहले की थी.

गर्ग ने कहा, ‘मुझे पता है कि मैंने जो प्रक्रिया अपनाई वह उचित नहीं हो सकती है, लेकिन उस समय मेरे दिमाग में जो आया मैंने वही किया. वह कहते हैं जिंदगी बचाने की तत्काल कोशिश दूसरी चीजों पर वक्त बर्बाद करने से ज्यादा अहम था.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com