1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. प्रवर्तन निदेशालय ने शराब नीति मामले में दिल्ली, पंजाब, हैदराबाद में 35 जगहों पर की छापेमारी

प्रवर्तन निदेशालय ने शराब नीति मामले में दिल्ली, पंजाब, हैदराबाद में 35 जगहों पर की छापेमारी

खत्म हो चुके शराब नीति मामले में ईडी का नया एक्शन, प्रवर्तन निदेशालय ने Excise liquor policy case में राजधानी समेत पंजाब, हैदराबाद में 35 जगहों पर छापेमारी की। मामले में ईडी ने मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया है। इससे पहले ईडी ने शराब कारोबारी समीर महेंद्रू को गिरफ्तार किया था।

By रुचि उपाध्याय 
Updated Date

Excise liquor policy case: प्रवर्तन निदेशालय ने आज दिल्ली, पंजाब और हैदराबाद में 35 स्थानों पर नए सिरे से छापेमारी शुरू की, जो अब समाप्त हो चुकी दिल्ली शराब नीति में कथित अनियमितताओं की मनी लॉन्ड्रिंग जांच को गहरा कर रही है। इससे पहले सितंबर में 2 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इस मामले में पहले भी कई बाद देश भर में सीबीआई और ईडी छापेमारी कर चुकी है. इसके बाद विजय नायर और समीर महेंद्रू को ईडी ने गिरफ्तार किया था. इसी मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर और बैंक लॉकर की तलाशी भी ली गई थी।

पढ़ें :- मनीष सिसोदिया पूछताछ के लिए पहुंचे सीबीआई ऑफिस, भ्रष्टाचार का लगा आरोप, पढ़ें

आपको बता दें कि वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ईडी की छापेमारी पर ट्वीट करके कहा कि “500 से अधिक छापे, 3 महीने से 300 से अधिक सीबीआई / ईडी अधिकारी 24 घंटे काम कर रहे हैं – एक मनीष सिसोदिया के खिलाफ सबूत खोजने के लिए। कुछ नहीं मिल रहा। क्योंकि कुछ किया ही नहीं।” केजरीवाल ने कहा कि अपनी गंदी राजनीति के लिए इतने अधिकारियों का समय बर्बाद किया जा रहा है. ऐसे देश कैसे तरक्की करेगा?

आपको बता दें कि, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की एफआईआर के अनुसार इंडोस्पिरिट्स के मालिक समीर महेंद्रू ने मनीष सिसोदिया के सहयोगियों को दो बार में करोड़ों रुपए भुगतान किए गए थे. वहीं सीबीआई की एफआईआर में आरोप है कि मनीष सिसोदिया के एक सहयोगी अर्जुन पांडे ने इंटरटेनमेंट और इवेंट मैनेजमेंट कपंनी के पूर्व सीईओ विजय नायर की ओर से समीर महेंद्रू से करीब 2-4 करोड़ रुपये नकद पैसे लिए थे.

वहीं मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एजेंसी को जांच के दौरान दिल्ली शराब घोटाले के लिंक आंध्र प्रदेश और पंजाब से भी जुड़ने के संकेत मिले हैं. इसके बाद ईडी उन ठिकानों पर रेड मारकर सबूत इकट्ठा करने की कोशिश कर रही है. सूत्रों के मुताबिक समीर महेंद्रू से पूछताछ में कई अहम जानकारी सामने आई हैं. यह छापेमारी राजनीति से जुड़े कुछ लोगों, शराब कारोबारियों और पूर्व अधिकारियों के घर पर की गई है. एलजी विनय कुमार सक्सेना की सिफारिश पर दिल्ली में शराब नीति में कथित घोटाले को लेकर सीबीआई ने केस दर्ज किया था. इसके बाद में ईडी ने भी जांच शुरू की थी. इस मामले में जांच एजेंसियों ने आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को मुख्य आरोपी बनाया था. इसके बाद से सीबीआई और ईडी लगातार छापेमारी कर सबूत इकट्ठा करने का प्रयास कर रही है.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...