1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. EPFO Reduce Internest Rate : EPFO ने ब्याज दर में की कटौती, वित्त वर्ष 2021-22 के लिए रहेगी 8.1 प्रतिशत

EPFO Reduce Internest Rate : EPFO ने ब्याज दर में की कटौती, वित्त वर्ष 2021-22 के लिए रहेगी 8.1 प्रतिशत

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने शनिवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भविष्य निधि जमा पर 8.1 प्रतिशत ब्याज देने का फैसला किया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 12 मार्च। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने शनिवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भविष्य निधि जमा पर 8.1 प्रतिशत ब्याज देने का फैसला किया है। पिछले वित्त वर्ष (2020-21) बचत पर ब्याज दर को 8.5 प्रतिशत बनाए रखा गया था, लेकिन इसे मौजूदा वर्ष के लिए कम किया गया है।

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

EPFO सरकारी सेवानिवृत्ति निधि प्रबंधक है और लाखों वेतनभोगी मध्यम वर्गीय भारतीयों के लिए एक लोकप्रिय बचत योजना है। इसके न्यासी बोर्ड की 230वीं बैठक शनिवार को श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेन्द्र यादव की अध्यक्षता में गुवाहाटी में हुई।

मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक केंद्रीय बोर्ड ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए सदस्यों के खातों में EPF संचय पर 8.10 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर जमा करने की सिफारिश की है। ब्याज दर आधिकारिक तौर पर सरकारी राजपत्र में अधिसूचित की जाएगी। जिसके बाद EPFO अपने ग्राहकों के खातों में ब्याज दर जमा करेगा।

EPFO के नियमों के मुताबिक किसी कर्मचारी के मूल वेतन का कम से कम 12 प्रतिशत भविष्य निधि में जमा करने के लिए अनिवार्य रूप से काटा जाना चाहिए। वहीं नियोक्ता अन्य 12 प्रतिशत का सह-योगदान करेगा।

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...