1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. वंदे भारत एक्सप्रेस 24 घंटो के अंदर रिपेयर होकर वापस पटरी पर लौटी, आगे बरती जाएंगी ये सावधानियां

वंदे भारत एक्सप्रेस 24 घंटो के अंदर रिपेयर होकर वापस पटरी पर लौटी, आगे बरती जाएंगी ये सावधानियां

मुंबई-गांधीनगर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन भैंसों के झुंड से टकराने के बाद क्षतिग्रस्त हो गई थी अब 24 घंटों के भीतर रिपेयर होकर पटरी पर लौट आयी है।

By रुचि उपाध्याय 
Updated Date

Vande Bharat express: मुंबई-गांधीनगर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का अगला हिस्सा, जो गुरुवार के दिन गुजरात में कुछ भैंसों की चपेट में आने से क्षतिग्रस्त हो गया था, शुक्रवार को बदल दिया गया है। इस ट्रेन को एक दिन के भीतर ही कोचिंग केयर सेंटर में ठीक कर दिया गया है। इस टक्कर में ट्रेन के आगे का कुछ हिस्सा ही क्षतिग्रस्त हुआ था। इस संबंध में पश्चिम रेलवे सीपीआरओ ने बताया कि मुंबई सेंट्रल डिपो में क्षतिग्रस्त हिस्से को बदल दिया गया है। बिना किसी अतिरिक्त डाउनटाइम के ट्रेन को वापस पटरी पर ला दिया गया है। हम भविष्य में इस प्रकार की घटनाओं को रोकने के लिए सभी कदम उठा रहे हैं।

पढ़ें :- गुजरात में वंदे भारत एक्सप्रेस की चपेट में आने से महिला की मौत, आणंद के पास हुआ हादसा

कैसे हुई थी दुर्घटना
पीएम मोदी द्वारा नई लांच की गयी वंदे भारत एक्सप्रेस की तस्वीर गुरुवार को सुबह करीब 11.15 बजे दुर्घटना के तुरंत बाद वायरल हो गई थी। लोग तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं। आपको बता दें कि 3-4 भैंसों के रेलवे लाइन पर आने के कारण इंजन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। दुर्घटना आठ मिनट के भीतर शवों को हटाकर ट्रेन गांधीनगर के लिए रवाना हुई और अपने तय समय पर पहुंच गई।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता जितेंद्र कुमार जयंत ने कहा कि मुंबई सेंट्रल और गांधीनगर कैपिटल स्टेशनों के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस सुबह मुंबई से रवाना हुई थी। सुबह करीब 11.15 बजे ट्रैक पर आई कुछ भैंसों से टकराने के बाद ट्रेन के इंजन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। यह घटना अहमदाबाद के वटवा और मणिनगर क्षेत्रों के बीच हुई।

आपको बता दें कि, पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने कहा कि ट्रेन का चालक पूरी तरह से सतर्क था। उसने तुरंत ट्रेन की सीटी बजाई और ब्रेक भी लगाया, लेकिन समय कम था। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों को सलाह दी जा रही है कि वे अपने मवेशियों को ट्रैक के पास न छोड़ें। उन्होंने आगे बताया कि पश्चिम रेलवे गांधीनगर-अहमदाबाद खंड पर ट्रेन की गति बढ़ाकर 160 किलोमीटर प्रति घंटे करने और भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने के लिए बाड़ लगाने का काम करेगा। यह देश में तीसरी वंदे भारत ट्रेन है। इससे पहले नई दिल्ली और वाराणसी तथा नई दिल्ली और माता वैष्णो देवी कटरा के बीच वंदे भारत ट्रेनें चल रही हैं। यह ट्रेन गांधीनगर से अहमदाबाद होते हुए मुंबई तक जाती है फिर वापस इसी रूट से होकर गांधीनगर वापस आती है।

पढ़ें :- चेन्नई-मैसूर वंदे भारत एक्सप्रेस सेवा 11 नवंबर से शुरू होगी, आज से ट्रायल रन शुरू
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...