1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Nobel Prize 2022: स्वंते पाबो को फिजियोलॉजी/मेडिसिन के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया

Nobel Prize 2022: स्वंते पाबो को फिजियोलॉजी/मेडिसिन के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया

स्वीडन के स्वंते पाबो को मिला दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में से एक पुरस्कार। स्वंते पाबो को फिजियोलॉजी या मेडिसिन 2022 (नोबेल पुरस्कार 2022) में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। स्वीडन के स्टॉकहोम में करोलिंस्का संस्थान में पुरस्कार देने वाली संस्था ने सोमवार को इस फैसले की घोषणा की।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Svante Pääbo Awarded Nobel Prize: इस वर्ष के लिए फिजियोलॉजी या मेडिसिन में नोबेल पुरस्कार स्वंते पाबो को विलुप्त होमिनिन और मानव विकास के जीनोम से संबंधित उनकी खोजों के लिए दिया गया है। सोमवार को उन्हें यह पुरस्कार दिया गया। विशेष रूप से, चिकित्सा में पुरस्कार नोबेल पुरस्कार की घोषणा के एक सप्ताह बाद शुरू होता है। पुरस्कार की घोषणा मंगलवार को भौतिकी पुरस्कार के साथ, बुधवार को रसायन शास्त्र और गुरुवार को साहित्य के साथ जारी रहेगी। और, नोबेल शांति पुरस्कार 2022 की घोषणा शुक्रवार को और अर्थशास्त्र पुरस्कार की घोषणा 10 अक्टूबर को की जाएगी।

पढ़ें :- अपनी जिंदगी के आखिरी समय में अल्फ्रेड नोबेल को क्यों था पश्चाताप ? पढ़े आगे

आपको बता दें की स्वंते पाबो एक स्वीडिश जेनेटिस्ट (Geneticist) हैं जो विकासवादी आनुवंशिकी के क्षेत्र में विशेषज्ञता रखते हैं. पैलियोजेनेटिक्स के संस्थापकों में से एक के रूप में, उन्होंने निएंडरथल जीनोम पर बड़े पैमाने पर काम किया है. पुरस्कार की घोषणा करते हुए नोबेल पुरस्कार समिति ने कहा, “अपने अग्रणी शोध के माध्यम से, स्वंते पाबो ने कुछ ऐसा किया है जो असंभव सा प्रतीत होता है. निएंडरथल के जीनोम को अनुक्रमित करना, जो वर्तमान मनुष्यों के विलुप्त रिलेटिव हैं. उन्होंने पहले अज्ञात होमिनिन, डेनिसोवा की सनसनीखेज खोज भी की.”

पढ़ें :- नोबेल पुरस्कार 2021 : साहित्य में इस वर्ष का नोबेल पुरस्कार आखिरकार किसे मिला, पढ़ें पूरी खबर !

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, ये पुरस्कार ऐसे समय में दिया गया है जब कोविड महामारी ने चिकित्सा अनुसंधान को केंद्र में रखा है. इस घोषणा के बाद मंगलवार को भौतिकी के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize), बुधवार को रसायन विज्ञान और गुरुवार को साहित्य का नोबेल पुरस्कार दिया जाएगा. नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा शुक्रवार को होगी और अर्थशास्त्र पुरस्कार की घोषणा 10 अक्टूबर को की जाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...