Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. PM Modi ने दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज, ‘एमवी गंगा विलास’ को हरी झंडी दिखाकर वाराणसी से किया रवाना, बोले- विदेशों जैसा अनुभव अब भारत में

PM Modi ने दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज, ‘एमवी गंगा विलास’ को हरी झंडी दिखाकर वाराणसी से किया रवाना, बोले- विदेशों जैसा अनुभव अब भारत में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उत्तर प्रदेश के वाराणसी में दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज एमवी गंगा विलास को हरी झंडी दिखाई। 32 स्विस पर्यटक बांग्लादेश के रास्ते असम के डिब्रूगढ़ पहुंचने के लिए पहली यात्रा करेंगे।

By रुचि उपाध्याय 

Updated Date

PM Modi Launch MV Ganga Vilas: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उत्तर प्रदेश के वाराणसी में दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज एमवी गंगा विलास को हरी झंडी दिखाई। 32 स्विस पर्यटक बांग्लादेश के रास्ते असम के डिब्रूगढ़ पहुंचने के लिए पहली यात्रा करेंगे। केंद्रीय मंत्री एस सोनोवाल, यूपी के सीएम आदित्यनाथ लॉन्च इवेंट में मौजूद हैं. बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और असम के सीएम एचबी सरमा वर्चुअली इवेंट में शामिल हुए हैं.

पढ़ें :- नीति आयोग में आम बजट 2023 से पहले PM मोदी ने कि अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक,जाना इकोनॉमी का हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉन्च के बाद कहा, “रिवर क्रूज गंगा विलास का शुभारंभ हो गया है. गंगा नदी हमारे लिए सिर्फ जलधारा नहीं है, बल्कि प्राचीन काल से तप-तपस्वियों की साक्षी है. मां गंगा ने भारतीयों को हमेशा पोषित किया है, प्रेरित किया है. गंगा पट्टी आजादी के बाद पिछड़ती चली गई. लाखों लोगों का पलायन हुआ, इस स्थिति को बदलना जरूरी था और हमने नई सोच के साथ काम करना शुरू किया. एक तरफ नमामी गंगे के माध्यम से गंगा की निर्मलता के लिए काम किया, दूसरी तरफ अर्थ गंगा पर भी काम किया. आर्थिक गतिविधियों का नया वातावरण बनाया.”

विदेशी टूरिस्ट को पीएम का संदेश

प्रधानमंत्री ने कहा, “यूपी, बिहार, असम, बंगाल और बांग्लादेश की यात्रा के दौरान यह क्रूज हर तरह की सुविधा मुहैया करवाएगा. मैं सभी विदेशी टूरिस्ट का विशेष अभिनंदन करता हूं जो पहले सफर पर निकलने वाले हैं. मैं कहूंगा कि भारत के पास वो सबकुछ है जिसकी आप कल्पना कर सकते हैं. भारत की व्याख्या सिर्फ शब्दों में नहीं की जा सकती, हमें दिल से समझा सकता है.”

‘क्रूज टूरिज्म का नया दौर’

पढ़ें :- कर्नाटक: PM Modi के कर्नाटक रोड शो में सुरक्षा सेंध, एक शख्स ने तोड़ा घेरा, माला लेकर पहुंचा

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “क्रूज टूरिज्म का नया दौर इस क्षेत्र में रोजगार, स्वरोजगार के नए अवसर देगा. विदेशी पर्यटकों के साथ देश के पर्यटकों के लिए भी ये खास अनुभव होगा. ये क्रूज जहां से भी गुजरेगा वहां विकास की नई रोशनी लाएगा. हम शहरों के बीच लंबे रिवर क्रूज के अलावा, अलग-अलग शहरों में छोटे क्रूज को भी बढ़ावा दे रहे हैं. काशी में भी ऐसी व्यवस्था चल रही है. बजट से लेकर लग्जरी क्रूज तक, हर प्रकार की सुविधाओं पर ध्यान दिया जा रहा है.”

पीएम मोदी ने कहा कि गंगा पार के क्षेत्र में नई टेंट सिटी काशी आने वाले लोगों को नया अनुभव देगी. इस टेंट सिटी में आधुनिकता और आस्था है. राग से लेकर स्वाद तक इस टेंट सिटी में देखने को मिलेगा. उन्होंने कहा कि आज का ये आयोजन 2014 के बाद से देश में जो नीतियां बनीं, जो दिशा तय हुई, उसका प्रतिबिंब है. 21वीं सदी का ये दशक, भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर की कायाकल्प का दशक है.

सैटेलाइट से गंगा विलास की तुलना

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज गंगा विलास की शुरुआत होना एक साधारण घटना नहीं है. उन्होंने कहा, “जैसे कोई देश जब अपने दम पर सैटेलाइट को अंतरिक्ष में स्थापित करता है तो वो उस देश की तकनीती क्षमता को दिखता है. वैसे ही 3200 किलोमीटर से ज्यादा लंबा ये सफर, भारत में वाटर-वे के विकास और नदी जलमार्गों के लिए बन रहे आधुनिक संसाधनों का जीता-जागता उधारण है.”

गंगा विलास के लॉन्च से पहले बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा, “रिवर क्रूज एमवी गंगा विलास राज्य के बक्सर, छपरा, पटना, मुंगेर, सुल्तानगंज और कहलगांव का दौरा करेगा. हर बंदरगाह पर पर्यटकों का पारंपरिक स्वागत किया जाएगा और ऐतिहासिक स्थलों की सैर कराई जाएगी.” वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “पिछले तीन दिनों में, रिवर क्रूज एमवी गंगा विलास के पर्यटकों ने वाराणसी और आसपास के स्थानों का दौरा किया और संस्कृति का अनुभव किया. काशी आज एक नई पहचान के साथ आगे बढ़ रही है.”

पढ़ें :- Birthday Special: मुरली मनोहर जोशी के 89वें जन्मदिन पर PM मोदी ने फोन पर दी शुभकामना, घर जाकर करेंगे मुलाकात

जानें क्या है इसकी खासियत

‘MV GANGA VILAS CRUISE’ क्रूज में 36 पर्यटकों की क्षमता और सभी सुविधाओं के साथ तीन डेक और बोर्ड पर 18 सुइट हैं. क्रूज में जिम, स्पा सेंटर, लाइब्रेरी समेत अन्य चीजें हैं. स्विट्जरलैंड और जर्मनी के 31 यात्रियों का एक समूह क्रूज पर सवार है और जहाज के 40 चालक दल के सदस्यों के साथ क्रूज यात्रा पर निकल चुका है. क्रूज़ की सेफ्टी में तैनात है शिप. क्रूज़ कैप्टन को गाइड करेगा शिप पायलट. सुरक्षा के लिए लाइफ़ जैकेट्स और फ़ायर अलार्म लगे हैं. इमरजेंसी के लिए 4 स्टीमर्स भी तैनात. क्रूज के डिब्रूगढ़ में एमवी गंगा विलास के आगमन की अपेक्षित तारीख 1 मार्च 2023 है.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com