1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. रिलायंस जियो में पिता मुकेश की जगह लेंगे आकाश अंबानी बनेंगे नए चेयरमैन

रिलायंस जियो में पिता मुकेश की जगह लेंगे आकाश अंबानी बनेंगे नए चेयरमैन

रिलायंस जियो बोर्ड की मीटिंग में आकाश अंबानी की चेयरमैन के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. वहीं मुकेश अंबानी ने कंपनी के डायरेक्टर के पद से इस्तीफा दे दिया है जो कि 27 जून से लागू हो गया है.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 28 जून 2022। Akash Ambani New Chairman of Reliance Jio :  रिलायंस जियो के नए चेयरमैन आकाश अंबानी बनाए गये हैं। रिलायंस बोर्ड की मीटिंग में इस फैसले पर अंतिम मुहर लग गई है। बोर्ड के सभी सदस्यों ने आकाश अंबानी को चेयरमैन पद के लिए आए सुझाव को मंजूर कर लिया है। इससे पहले मुकेश अंबानी ने अपनी कंपनी के निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है। ये इस्तीफा 27 जून ने प्रभावी होगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी के पुत्र आकाश अंबानी वर्ष 2014 में जियो के बोर्ड में शामिल हुए थे। रिलायंस इंडस्ट्रीज की टेलीकॉम इकाई के रूप में जियो को बनाया गया है। इसके फैसले के साथ ही जियो के एमडी के लिए पंकज मोहन पवार को नियुक्त किया जाएगा, बोर्ड की ओर से इस नियुक्ति को भी मंजूर किया गया है। पंकज मोहन पवार को पांच साल के लिए एमडी बनाया गया है।

पढ़ें :- IGL ने बढ़ाए पीएनजी के दाम, अब महंगी हो गई पाइप लाइन वाली घरेलू गैस

आकाश अंबानी संभालेंगे 8 लाख करोड़ की जिम्मेदारी

आपको बता दें कि रिलायंस जियो की मौजूदा वैल्यूएशन करीब सौ अरब डॉलर बताई गई है। यानि जियो की कमान संभालने के साथ ही आकाश अंबानी करीब 8 लाख करोड़ रुपये के कारोबार को लीड करेंगे। इसी साल की शुरुआत में ग्लोबल ब्रोकिंग फर्म सीएलएसए ने जियो कारोबार की वैल्यूएशन 99 अरब डॉलर आंकी थी।

दरअसल जियो की लिस्टिंग की भी तैयारी चल रही है। ऐसे में अब माना जा रहा है कि लिस्टिंग से पहले ही आकाश को कमान देकर मुकेश अंबानी ने नई कंपनी बनाने से पहले ही नेतृत्व को लेकर तस्वीर साफ कर दी है। इससे पहले ही जियो प्लेटफार्म ने दुनिया भर के निवेशकों से 1.52 लाख करोड़ रुपये का निवेश उठाया था। इसमें फेसबुक, गूगल, इंटेल कैपिटल, क्वालकाम वेंचर्स और दुनिया भर की कुछ प्रमुख पीई कंपनियां शामिल थीं। रिलायंस इंडस्ट्री के लिए जियो कितना अहम है ये इस बात से पता चलता है कि जब मुकेश अंबानी ने कहा था कि डाटा नये दौर का ऑयल है। जियो ने सेक्टर में बड़ी आक्रामक रणनीति के साथ कदम रखा था और जियो की वजह से सेक्टर में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। आने वाले समय में जियो के आईपीओ की भी तैयारी चल रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...