1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. WHO ने कहा- यूरोप में समाप्ति की ओर बढ़ रहा कोरोना, सीमाओं को खोलने की तैयारी में न्यूजीलैंड

WHO ने कहा- यूरोप में समाप्ति की ओर बढ़ रहा कोरोना, सीमाओं को खोलने की तैयारी में न्यूजीलैंड

WHO ने कहा कि सभी यूरोपीय देशों में तीन कारणों से कोरोना का प्रकोप नियंत्रित हो रहा है। भरपूर टीकाकरण, गर्म मौसम में वायरस की कम फैलने की प्रवृत्ति और ओमिक्रॉन के कम घातक होने से ये बीमारी काफी हद तक काबू में होती जा रही है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

कोपेनहेगन/वेलिंगटन, 04 फरवरी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के यूरोप कार्यालय के निदेशक डॉ. हैंस क्लूज ने गुरुवार को कहा कि यूरोपीय महाद्वीप में अब कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या कम होने के साथ ये महामारी संतोषजनक समाप्ति की तरफ बढ़ रही है।

पढ़ें :- North Korea : उत्तर कोरिया में अज्ञात बुखार का कहर, 17,400 नए मरीज, 21 की मौत

WHO के डॉ. हैंस क्लूज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि सभी यूरोपीय देशों में तीन कारणों से कोरोना का प्रकोप नियंत्रित हो रहा है। भरपूर टीकाकरण, गर्म मौसम में वायरस की कम फैलने की प्रवृत्ति और ओमिक्रॉन के कम घातक होने से ये बीमारी काफी हद तक काबू में होती जा रही है।

पढ़ें :- Corona Cases : देश के 34 राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों में कोरोना के नए मामले घटे, दो राज्यों में बढ़ोतरी जारी

गौरतलब है आने वाले हफ्तों में यूरोप के अधिकांश हिस्सों में सर्दी कम होने वाली है। क्लूज ने कहा कि आने वाले वसंत में हमें कुछ दिन शांति से गुजारने का मौका मिल सकता है। अगर कोरोना का कोई और वैरिएंट सामने आता है, तो यूरोप उससे निपटने में सक्षम होगा। इसके लिए सभी देशों को टीकाकरण जारी रखने और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाए रखने की जरुरत है।

पढ़ें :- Medical Waste : कोविड से मुकाबले के दौरान बढ़ा चिकित्सकीय कचरे का बोझ, WHO परेशान

वहीं न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने 5 स्टेज की योजनाओं को पेश करते हुए देश् की सीमाओं को खोलने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पूरी तरह वैक्सीन की खुराक ले चुके न्यूजीलैंड वासियों को ऑस्ट्रेलिया आने-जाने की इजाजत देता है। इसके साथ ही 27 फरवरी से पड़ोसी देश में रहने वाले न्यूजीलैंड वासियों को स्वदेश वापसी की मंजूरी मिल गई। वहीं 13 मार्च से दुनिया कि किसी भी कोने में रहने वाले न्यूजीलैंड के नागरिकों को वैक्सीन की खुराक लेने के बाद देश में प्रवेश की इजाजत है।

बतादें कि न्यूजीलैंड ने कोरोना महामारी पर रोक लगाने को लेकर काफी हद तक कामयाबी हासिल की है। इसकी 50 लाख की आबादी में से महामारी के कारण मौत के केवल 52 मामले दर्ज किए गए हैं। ओमिक्रॉन वेरिएंट का प्रकोप देश में देखा गया है।एक सर्वे के मुताबिक न्यूजीलैंड की करीब 77 फीसद आबादी को वैक्सीन की खुराक मिल चुकी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...