1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी के गोंडा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी बस खाई में गिरी 3 की मौत

यूपी के गोंडा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी बस खाई में गिरी 3 की मौत

मरने वालों में एक महिला भी शामिल है। बताया जा रहा है कि तरबगंज-नवाबगंज सड़क पर रानीपुर दुर्जनपुर पुल के पास ये हादसा हुआ है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Road Accident : उत्तर प्रदेश के गोंडा में सोमवार सुबह एक सड़क दुर्घटना में श्रद्धालुओं से भरी पिकअप खाई में जा गिरी। बता दें कि पिकअप में सवार 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई वहीं 40 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जानकारी के मुताबिक मरने वालों में एक महिला भी शामिल है।

पढ़ें :- योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, प्रदेश में बिना अनुमति नहीं निकाल पाएंगे धार्मिक जुलूस व शोभायात्रा

बताया जा रहा है कि तरबगंज-नवाबगंज सड़क पर रानीपुर दुर्जनपुर पुल के पास ये हादसा हुआ है। पिकअप में बैठे सभी श्रृद्धालु बहराइच जिले के बताए जा रहे हैं। ये सभी संगम स्नान के लिए प्रयागराज  जा रहे थे। स्थानीय लोगों की मदद से प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुटा है।

सीएम योगी ने घटना पर दुःख व्यक्त किया 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। सीएम ने इस हादसे में घायल लोगों के उपचार कराने और प्रभावित लोगों को हर संभव मदद और राहत प्रदान करने के भी निर्देश दिए हैं।

पिकअप में अलग से बनाई गई थी डबल सीट

पढ़ें :- मुख्यमंत्री योगी ने देखी 100 दिन की कार्ययोजना, निर्धारित किया विभागों का लक्ष्य

पिकअप में गलत तरीके से अलग से लकड़ी का तख्त डालकर डबल सीट बनाई गई थी। जानकारी के मुताबिक तरबगंज थाने से 10 किलोमीटर की दूरी पर दुर्जनपुर घाट पुल का एप्रोच मार्ग रानीपुर पहाड़ी स्थित पंडित जगनारायण शुक्ल स्मारक महाविद्यालय के सामने तेज मोड़ पर बना है। जहां पहले रिफ्लेक्टर भी लगाए गए थे।

दुर्घटना को कम करने व रोकने को लेकर तरबगंज थाने की पुलिस ने बैरिकेडिंग भी लगा रखी थी। जिससे चालक को दूर से ही मोड़ की स्थिति दिख जाती थी। लेकिन लगातार हो रही दुर्घटनाओं के बीच रिफ्लेक्टर और पुलिस की बैरिकेडिंग गायब हो गई है। लिहाजा घने कोहरे के कारण पिकअप चालक को बैरिकेडिंग नजर नहीं आई और पिकअप खाई में गिर गई।

गंभीर रूप से घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया 

घटना की सूचना मिलने पर पर सबसे पहले पीआरबी 880 मौके पर पहुंची। जिसमें तैनात कांस्टेबल जय माल, कांस्टेबल आनंद कुमार शुक्ला और चालक धर्मेंद्र पांडे ने पानी में उतर कर लोगों को निकालना शुरू किया। 12 घायलों को नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और बाकियों को तरबगंज स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया है।

जिसमें से चार को गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर किया गया। तरबगंज CHC से भी आधा दर्जन से अधिक घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। बाकियों का इलाज स्थानीय अस्पताल में चल रहा है।

पढ़ें :- Uttar Pradesh : योगी आदित्यनाथ चुने गए BJP विधायक दल के नेता, कहा- जिम्मेदारी बिना रुके, बिना थके और बिना डिगे लगातार निभाते रहेंगे

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...