1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. अंकिता भंडारी मर्डर केस:CM धामी के आदेश पर, आरोपी के रिजाॅर्ट पर चली बुलडोजर

अंकिता भंडारी मर्डर केस:CM धामी के आदेश पर, आरोपी के रिजाॅर्ट पर चली बुलडोजर

अंकिता भंडारी मर्डर केस में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर प्रशासन द्वारा बड़ी कार्रवाई करते हुये आरोपी के रिजाॅर्ट पर आधी रात को बुलडोजर चलाया गया,इस मर्डर केस का मुख्य आरोपी पुलकित आर्य को भी 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया गया है

By रेनू मिश्रा 
Updated Date

ANKITA BHANDARI MURDER CASE: अंकिता भंडारी मर्डर केस में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर प्रशासन द्वारा बड़ी कार्रवाई करते हुये आरोपी के ऋषिकेश के वनतारा रिजाॅर्ट पर शुक्रवार की रात को बुलडोजर चलाया गया,इस मर्डर केस का मुख्य आरोपी पुलकित आर्य को भी 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया गया है,साथ ही हत्या में शामिल 2 अन्य को भी गिरफ्तार किया गया है ,अंकिता इसी रिजाॅर्ट में बतौर रिसेप्शनिस्ट काम करती थी, वह 18 सितंबर से लापता थी, जब पुलिस ने जांच शुरू की तो 22 सितंबर को पता चला की उसकी हत्या हुई है

पुलकित आर्य
को इस मर्डर केस का मुख्य आरोपी बताया गया है जो बीजेपी नेता और पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य के बेटे है,पुलकित मंत्री का बेटा होने के नाते हमेशा दबंगई दिखाता था,रिजाॅर्ट के आस-पास के लोगो ने कहा है की रिजॉर्ट अनैतिक कार्य का अड्डा था,पुलकित आर्य ने अंकिता भंडारी को ग्राहक के साथ गलत काम करने का दबाव बनाया था और जब अंकिता ने मना कर दिया तो उसकी हत्या करी दी गई,लोगो का ये भी कहना है की पुलकित आर्य हमेशा रिजाॅर्ट के कर्मचारियो के साथ मारपीट करता था लेकिन लोग डर की वजह से कुछ नही कहते थे,यही कारण था कि यहां कर्मचारी कुछ ही समय में काम छोड़कर चले जाते थे।

पढ़ें :- Ghaziabad News: गाजियाबाद के कौशांबी थाना क्षेत्र में बंद कमरे में मिली 60 वर्षीय बुजुर्ग की लाश

ऋषिकेश में अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को लक्ष्मणझूला थाने से लेकर कोटद्वार न्यायालय जा रही पुलिस जीप को गंगा भोगपुर के आक्रोशित लोगों ने रोक लिया. लोगों ने जीप के शीशे तोड़कर आरोपियों के कपड़े फाड़ दिए और उनकी जबरदस्त पिटाई कर दी. यही नहीं लोगों ने गाड़ी को पलटने की कोशिश भी की. करीब 45 मिनट बाद एएसपी शेखर सुयाल मौके पर पहुंचे. पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया. लोगों ने पुलिस पर पथराव भी कियाए जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. अंकिता की हत्या के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को जिलाधिकारियों को राज्य के सभी रिजाॅर्ट्स की जांच करने के निर्देश दिए.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...