1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. भाजपा कल जारी कर सकती है अपना संकल्प पत्र, इन बिंदुओं को किया जा सकता है शामिल

भाजपा कल जारी कर सकती है अपना संकल्प पत्र, इन बिंदुओं को किया जा सकता है शामिल

भाजपा कल यानी रविवार को अपना संकल्प पत्र यानी घोषणापत्र जारी कर सकती है। प्रदेश की जनता को इस बात का इंतजार भी है कि भाजपा अपने संकल्प पत्र में किन नए वायदे को शामिल करने वाली है।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

UP Assembly Election 2022 : प्रदेश में पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होना है। लिहाजा जहां एक तरफ सभी राजनीतिक पार्टियां प्रचार प्रसार में लगी हुई हैं वहीं जानकारी मिल रही है कि भाजपा कल यानी रविवार को अपना संकल्प पत्र यानी घोषणापत्र जारी कर सकती है। प्रदेश की जनता को इस बात का इंतजार भी है कि भाजपा अपने संकल्प पत्र में किन नए वायदे को शामिल करने वाली है।

पढ़ें :- योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, प्रदेश में बिना अनुमति नहीं निकाल पाएंगे धार्मिक जुलूस व शोभायात्रा

गरीब किसान और महिलाओं से जुड़े मुद्दे हो सकते हैं शामिल 

उम्मीद जताई जा रही है कि भाजपा अपने संकल्प पत्र के केंद्र में गरीब, किसान और महिलाओं को शामिल कर सकती है। इसके अलावा प्रदेश में नए रोजगार के सृजन के मुद्दे को भी शामिल किया जा सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर से कल यानी शुक्रवार को नामांकन दाखिल करने के बाद से ही यह साफ कर दिया था कि पार्टी का संकल्प पत्र कल यानी रविवार को जारी किया जाएगा। योगी ने यह भी कहा कि उनकी सरकार ने 2017 में जो वायदे किए थे उन सभी वायदे को भी पूरा करने का काम किया है।

कृषि उत्पादों के निर्यात की दिशा में आगे बढ़ने को लेकर हो सकती हैं घोषणाएं

2017 के चुनाव को देखते हुए पार्टी ने जो संकल्प पत्र जारी किया था उसके लिए बकायदा भाजपा ने वित्त मंत्री मंत्री सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में एक समिति गठित की थी। इसके अलावा जनता के समक्ष आकांक्षा पेटियां भी भिजवाई थीं। लिहाजा उन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए इस बार भी भाजपा के संकल्प पत्र में खासकर किसानों को मध्य में रखने का काम किया जा सकता है। खासतौर पर इस बार के संकल्प पत्र में जैविक खेती और जीरो बजट खेती के साथ ही कृषि उत्पादों के निर्यात की दिशा में आगे बढ़ने को लेकर कुछ प्रमुख घोषणाएं हो सकती हैं।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री योगी ने देखी 100 दिन की कार्ययोजना, निर्धारित किया विभागों का लक्ष्य

महिला सुरक्षा और कानून व्यवस्था हो सकता है अहम मुद्दा

संकल्प पत्र में किसानों के अलावा महिला सुरक्षा और प्रदेश की कानून व्यवस्था को अहम स्थान दिया जा सकता है। क्योंकि वैसे भी योगी सरकार के 5 वर्षों के कार्यकाल पर अगर हम नजर डालें तो उसमें कानून व्यवस्था और महिलाओं से जुड़े मुद्दे प्रमुख रहे हैं। योगी सरकार कानून व्यवस्था को लेकर हमेशा से संकल्प बद्ध नजर आई है। लिहाजा इस बार भी उम्मीद है कि योगी सरकार अपने संकल्प पत्र में महिला और कानून व्यवस्था को प्रमुख स्थान दे सकती है।

शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े मुद्दे को भी किया सकता है शामिल 

इसके अलावा शिक्षा व्यवस्था में कुछ नए बदलाव किए जा सकते हैं। योगी सरकार शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने की दिशा में काम करते हुए नजर भी आई है। प्रदेश में नकल पर रोक लगाने तथा प्रत्येक परीक्षा केंद्रों पर कैमरा लगवाने जैसे अनेक काम किए हैं। लिहाजा उम्मीद है कि योगी सरकार अपने नए संकल्प पत्र में इन शैक्षिक सुधारों और शिक्षा को रोजगारपरक बनाने की दिशा में कुछ और वायदे कर सकती है। इसके अलावा विद्यालय तथा नए विश्वविद्यालयों का निर्माण जैसे अन्य वायदे भी किए जा सकते हैं।

 

पढ़ें :- Uttar Pradesh : योगी आदित्यनाथ चुने गए BJP विधायक दल के नेता, कहा- जिम्मेदारी बिना रुके, बिना थके और बिना डिगे लगातार निभाते रहेंगे

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...