1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड मे सहयोगी दल कांग्रेस ने मॉब लिंचिंग में मारे गये लोगों के परिजनों को नौकरी देने की मांग की

झारखंड मे सहयोगी दल कांग्रेस ने मॉब लिंचिंग में मारे गये लोगों के परिजनों को नौकरी देने की मांग की

उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि पूर्ववर्ती भाजपा की सरकार में मॉब लिंचिंग से मारे गये सभी पीड़ित परिवारों को कम से कम एक परिजन को नौकरी सुनिश्चित किया जाए। साथ ही राज्य सरकार अपनी ओर से कम से कम पांच लाख का मुआवजा राशि समय-सीमा के अंदर दिया जाए। 

By Akash Singh 
Updated Date

झारखंड प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष शहजादा अनवर ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के कार्यकाल में मॉब लिंचिंग में मारे गये सभी परिवारों को नौकरी एवं आर्थिक सहायता देने की मांग की है।

पढ़ें :- झारखंड का राजनीतिक महाभारत : हेमन्त की हिम्मत , भाजपा का हमला , ED की दबिश [ इंडिया वाँयस विश्लेषण ]

अनवर ने मंगलवार को लिखे पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि विगत दिनों आपने और आपकी सरकार ने पूरी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए बरही के दुलमाहा गांव में मॉब लिंचिंग में मारे गये रूपेश पांडेय के परिवार के एक सदस्य को नौकरी एवं पांच लाख रूपया आर्थिक सहायता देना बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। आपके इस न्याय संगत कार्य के बाद उनके परिवारों में उम्मीद की किरण जगी है जो पूर्व में इस तरह की घटना से प्रभावित हुए हैं।

उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार के कार्यकाल में मॉब लिंचिंग की कई दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं घटी जिससे कई अल्पसंख्यकों, दलितों, आदिवासियों, निर्दयता से मार दिये गये। उन्होंने कहा कि महागठबंधन की सरकार धर्म, जाति और वर्ग से ऊपर उठकर सबके साथ समान व्यवहार करती है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि पूर्ववर्ती भाजपा की सरकार में मॉब लिंचिंग से मारे गये सभी पीड़ित परिवारों को कम से कम एक परिजन को नौकरी सुनिश्चित किया जाए। साथ ही राज्य सरकार अपनी ओर से कम से कम पांच लाख का मुआवजा राशि समय-सीमा के अंदर दिया जाए।

 

पढ़ें :- झारखंड की सैर [ इंडिया वायस विश्लेषण ]

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...