Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. विवादित टिप्पणी मामला : हांसी पुलिस ने एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता को किया गिरफ्तार, 4 घंटे पूछताछ के बाद अंतरिम जमानत पर छोड़ा

विवादित टिप्पणी मामला : हांसी पुलिस ने एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता को किया गिरफ्तार, 4 घंटे पूछताछ के बाद अंतरिम जमानत पर छोड़ा

मुनमुन दत्ता के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत मुकदमा हांसी के दलित अधिकार कार्यकर्ता रजत कलसन ने 13 मई 2021 को दर्ज कराया था।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

हिसार, 07 फरवरी। तारक मेहता का उल्टा चश्मा की फेम एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता सोमवार को हांसी शहर थाना में दर्ज अनुसूचित जाति और जनजाति अत्याचार अधिनियम के तहत दर्ज केस में जांच अधिकारी DSP विनोद शंकर के सामने पेश हुईं। जांच अधिकारी DSP विनोद शंकर ने उन्हें औपचारिक तौर पर गिरफ्तार कर करीब 4 घंटे तक उनसे अपने कार्यालय में पूछताछ की। पूछताछ के बाद मुनमुन दत्ता को अंतरिम जमानत पर रिहा कर दिया गया।

पढ़ें :- Sidharth-Kiara Wedding: 7 फरवरी को सिद्धार्थ-कियारा लेंगे सात फेरे, शादी का वीडियो आया सामने

इस दौरान DSP कार्यालय के बाहर मीडिया और प्रशंसकों का तांता लगा रहा। एहतियातन कार्यालय में भारी पुलिस बल तैनात रहा। मुनमुन दत्ता हाई कोर्ट की वकील, दो सुरक्षाकर्मियों और बाउंसरों के साथ DSP कार्यालय पहुंचीं। मुनमुन ने इस दौरान मीडिया से बात नहीं की।

बतादें कि मुनमुन दत्ता के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत मुकदमा हांसी के दलित अधिकार कार्यकर्ता रजत कलसन ने 13 मई 2021 को दर्ज कराया था। मुनमुन ने मुकदमे को खत्म कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। सुप्रीम कोर्ट ने 22 सितंबर 2021 को याचिका खारिज कर दी थी। इसके बाद मुनमुन दत्ता ने हिसार की एससी एसटी एक्ट के तहत विशेष अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दायर की। कोर्ट ने 28 जनवरी को याचिका खारिज कर दी थी।

जिसके बाद मुनमुन दत्ता ने अग्रिम जमानत के लिए पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। हाई कोर्ट के जस्टिस अवनीश झिंगन ने 4 फरवरी को मुनमुन दत्ता को हांसी में जांच अधिकारी के समक्ष पेश होकर जांच में शामिल होने का आदेश दिया था। हाई कोर्ट ने आदेश में कहा कि जांच अधिकारी मुनमुन दत्ता को गिरफ्तार कर पूछताछ करने के बाद अंतरिम जमानत पर छोड़ दे। वो 25 फरवरी को जांच रिपोर्ट हाई कोर्ट के सामने पेश करें।

क्या है मामला ?

पढ़ें :- Mp news: शिवपुरी में इंदौर-देहरादून एक्सप्रेस के सामने कूदकर महिला ने दी जान, मौके पर हुई मौत

गौरतलब है कि मुनमुन दत्ता ने पिछले साल 9 जनवरी को यू ट्यूब पर वीडियो जारी कर अनुसूचित जाति समाज के खिलाफ अभद्र और अपमानजनक टिप्पणी की थी। इस पर रजत कलसन ने 13 मई 2021 को मुनमुन दत्ता के खिलाफ थाना शहर हांसी में एससी एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कराया था। कलसन का कहना है कि एससी एसटी एक्ट में अंतरिम जमानत का प्रावधान नहीं है। उन्होंने पहले ही हांसी पुलिस द्वारा पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह को अंतरिम जमानत दिए जाने के हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। उस पर जल्दी सुनवाई होने वाली है। उन्होंने कहा कि वो हाई कोर्ट के मुनमुन दत्ता को अग्रिम जमानत देने के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेंगे।

वहीं हांसी के दलित अधिकार कार्यकर्ता रजत कलसन इससे पहले दलितों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने पर पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह और फिल्म अभिनेत्री युविका चौधरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा चुके हैं। इन दोनों को भी हांसी पहुंचकर पुलिस जांच में शामिल होना पड़ा था। पुलिस ने उन्हें भी औपचारिक तौर पर गिरफ्तार पर अंतरिम जमानत पर रिहा किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com