1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. नीरज चोपरा ने कहा, विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना और पदक जीतना मेरा अगला लक्ष्य

नीरज चोपरा ने कहा, विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना और पदक जीतना मेरा अगला लक्ष्य

प्रतिष्ठित 2022 लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवार्ड्स के वर्ल्ड ब्रेकथ्रू ऑफ द ईयर श्रेणी में नामित होने वाले नीरज ने वर्ल्ड एथलेटिक्स की वेबसाइट से बातचीत में कहा, "ओलंपिक स्वर्ण पदक ने मुझे जीवन में और भी बेहतर करने के लिए प्रेरित किया है। जुलाई में होने वाले विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना और पोडियम पर पहुंचना मेरा लक्ष्य होगा।"

By Akash Singh 
Updated Date

लंदन : भारतीय दिग्गज एथलीट एवं टोक्यो ओलंपिक के भाला फेंक स्पर्धा के स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने कहा कि 2022 में उनका मुख्य लक्ष्य विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना और पदक जीतना होगा। प्रतिष्ठित 2022 लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवार्ड्स के वर्ल्ड ब्रेकथ्रू ऑफ द ईयर श्रेणी में नामित होने वाले नीरज ने वर्ल्ड एथलेटिक्स की वेबसाइट से बातचीत में कहा, “ओलंपिक स्वर्ण पदक ने मुझे जीवन में और भी बेहतर करने के लिए प्रेरित किया है। जुलाई में होने वाले विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना और पोडियम पर पहुंचना मेरा लक्ष्य होगा।”

पढ़ें :- सबसे तेज 6000 टी 20 रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बने केएल राहुल, कोहली को छोड़ा पीछे

उन्होंने आगे कहा, “इसके अलावा, इस साल कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स, डायमंड लीग फाइनल जैसे अन्य बड़े टूर्नामेंट भी हैं। ये सभी वास्तव में प्रमुख टूर्नामेंट हैं।” उन्होंने कहा, “प्रशिक्षण के दौरान, यह हमेशा दिमाग में आता है कि मुझे इन सभी प्रमुख टूर्नामेंटों में पदक जीतने हैं। मैंने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता है और मैं वहां अपना प्रदर्शन दोहराना चाहूंगा। मैंने लंदन में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया। मैं वहां फाइनल में नहीं जा सका, लेकिन मैं इस साल टूर्नामेंट को पोडियम पर खत्म करने की पूरी कोशिश करूंगा। ”

चोपड़ा ने 2022 में एक नया व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ हासिल करने का भी लक्ष्य बनाया है, जो फिलहाल 88.03 मीटर है, उन्होंने कहा, “जब एक विशिष्ट दूरी हासिल करने की बात आती है, तो हम 90 मीटर के निशान तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। मुझे लगता है कि निकट भविष्य में मैं इसे वास्तव में जल्द ही हासिल कर सकता हूं। मुझ पर 90 मीटर पार करने का कोई दबाव नहीं है, लेकिन मैं अपनी ताकत और गति के साथ अपनी तकनीक पर काम करूंगा और इस साल इसे हासिल करना चाहूंगा।”

नीरज ने कहा, “मैं हमेशा सोचता हूं कि मैंने अब तक जो कुछ भी किया है और हासिल किया है वह ‘सर्वश्रेष्ठ’ नहीं है। मुझे लगता है कि मैं भविष्य में वास्तव में बेहतर कर सकता हूं। यह अच्छा लगता है कि पूरा देश मुझ पर विश्वास करता है और वास्तव में मुझसे बहुत उम्मीदें रखता है।”

पढ़ें :- ISSF विश्व कप 2022 में सात पदक के साथ शीर्ष पर रहा भारत
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...