1. हिन्दी समाचार
  2. झारखंड
  3. आज CM हेमंत की सदस्यता पर आ सकता है फैसला,सरकार पर कोई खतरा नहीं

आज CM हेमंत की सदस्यता पर आ सकता है फैसला,सरकार पर कोई खतरा नहीं

आज CM हेमंत की सदस्यता पर आ सकता है फैसला, राजनीतिक संकट के बीच राज्यपाल रमेश बैंस रांची लौटे,निर्वाचित सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर रही बीजेपी -हेमंत सोरेन

By Ruchi Kumari 
Updated Date

आज झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की विधानसभा की सदस्यता को लेकर फैसला हो सकता है. प्रदेश में जारी राजनीतिक संकट के बीच राज्यपाल रमेश बैंस करीब एक हफ्ते के लिए दिल्ली दौरे पर चले गये थे. अब वो रांची लौट आये हैं. वैसे भी रवाना होने से पहले उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी के विधायकों को आश्वासन दिया था कि वे सीएम सोरेन की विधानसभा सदस्यता समाप्ति पर निर्वाचन आयोग की सिफारिश पर जल्द अपना पक्ष स्पष्ट करेंगे. राजभवन में आधिकारिक सूत्र ने बताया कि राज्यपाल रांची लौट आए हैं. ऐसे में आज कोई आदेश जारी हो सकता है.

पढ़ें :- Jharkhand में राजनीतिक घेराबंदी पर Hemant का हमला [ इंडिया वॉइस विश्लेषण ]

ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में निर्वाचन आयोग ने सीएम हेमंत सोरेन की योग्यता संबंधी अपनी सिफारिश 25 अगस्त को ही राज्यपाल को भेज दी थी, लेकिन राज्यपाल ने तब से अब तक इस बारे में कोई जानकारी या आदेश नहीं दिया है। उधर सीएम की विधायकी जाने को लेकर राज्य में राजनीतिक संकट पैदा हो गया है, सूत्रों के मुताबिक आयोग ने मुख्यमंत्री को विधायक के तौर पर अयोग्य घोषित करने की सिफारिश की है,इसलिए राज्यपाल सभी कानूनी और राजनीतिक मुद्दों पर ढंग से विचार कर लेना चाहते हैं.
सरकार ने दिखाई ताकत
इस बीच सोमवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा की गठबंधन सरकार ने विधानसभा में दुबारा विश्वास मत पेश किया और आसानी से इसे हासिल कर लिया. इस तरह सीएम सोरेन ने साफ कर दिया है कि गठबंधन के सभी विधायक उनके साथ हैं. विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान सोरेन ने कहा कि विश्वासमत की जरूरत इसलिए महसूस हुई क्योंकि झारखंड सहित गैर-बीजेपी शासित राज्यों में बीजेपी लोकतांत्रिक तरीके से निर्वाचित सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है. विश्वास मत हासिल करने के बाद विधायकों की खरीद-फरोख्त के कारण राज्य में सरकार गिरने या बदलने की आशंका भी खत्म हो गई है. ऐसे में सभी को बेसब्री से राज्यपाल के फैसले का इंतजार है.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...