1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Jharkhand : अवैध खनन को लेकर एक्शन में सोरेन सरकार, 2 खदान सील, 2 को नोटिस, एक क्रशर प्लांट नष्ट

Jharkhand : अवैध खनन को लेकर एक्शन में सोरेन सरकार, 2 खदान सील, 2 को नोटिस, एक क्रशर प्लांट नष्ट

मुख्यमंत्री सोरेन ने शनिवार को अवैध खनन के खिलाफ अभियान शुरू करने का निर्देश दिए थे।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची, 23 मई। 21 मई को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश के बाद अवैध खनन पर सख्ती शुरू होती दिख रही है। सीएम के निर्देश के बाद से अधिकारी एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। जिसके तहत हजारीबाग में अवैध खनन के आरोप में दो खदानों को सील कर दिया गया। साथ ही साहिबगंज में 2 खदानों के संचालकों को नोटिस दिया गया है। साहिबगंज के ही हाजीपुर पूरब में एक स्टोन क्रशर प्लांट नष्ट कर दिया गया। मुख्यमंत्री सोरेन ने शनिवार को अवैध खनन के खिलाफ अभियान शुरू करने का निर्देश दिया था।

पढ़ें :- Jharkhand : 15 दिनों की लंबी छुट्टी पर गए मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, अरूण सिंह को मिला प्रभार

हजारीबाग DMO की छापेमारी

बतादें कि हजारीबाग DMO अजीत कुमार ने टीम के साथ शनिवार की देर शाम इचाक के रूद में छापेमारी कर पत्थर की दो अवैध खदानों को सील किया है। वहीं छापेमारी की खबर मिलते ही खदान संचालक मौके से फरार हो गए। मामले में इचाक थाने में रूद गांव निवासी टिंकू साव, सुनील कुमार साव, प्रकाश साव और शंकर साव के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है। जहां खान निरीक्षक सुनील कुमार ने जांच कराई तो पता चला कि दोनों खदानों से 28 लाख 21 हजार घनफीट पत्थर का अवैध उत्खनन किया गया है। जिससे राज्य सरकार को 7 करोड़ 57 लाख 72 हजार के राजस्व की हानि हुई है। जिसकी क्षति पूर्ति करने के लिए कोर्ट के जरिए आरोपियों से सूद समेत वसूली की जाएगी। इसके साथ ही खदान से खनन सामग्री और विस्फोटक बरामद किए गए हैं। इसमें 5-5 एचपी के 2 डीजल पंप, 2 HP के 2 डीजल पंप, ब्लास्टिंग डेटोनेटर, एक्सप्लोडर, विस्फोटक कार्टीज, ब्लास्टिंग और ब्लास्टिंग केबल समेत कई सामग्री शामिल है।

अवैध बालू-गिट्टी ढोने वाले वाहनों पर कार्रवाई

वहीं अवैध तरीके से स्टोन चिप्स और बालू ढोने वाले वाहनों पर भी कार्रवाई की गई है। हजारीबाग के बडकागांव में अवैध बालू और गिट्टी से लदे 3 हाइवा और ट्रैक्टर जब्त कर पुलिस के हवाले किया है। तो बरहड़वा और कोटालपोखर में एक हाइवा और ट्रक को पकड़ कर केस किया गया है। दोनों वाहन चालकों को जेल भेज दिया गया है। इधर राजमहल में भी बिना चालान के स्टोन चिप्स लोड 2 ट्रैक्टर को जब्त किया है।

पढ़ें :- Jharkhand : CM हेमंत सोरेन और उनके करीबियों से जुड़े शेल कंपनी मामले में सुनवाई टली, IAS पूजा सिंघल के खिलाफ चार्जशीट दायर

DC ने साहिबगंज में खुद की छापेमारी

साहिबगंज में जारी अवैध पत्थर खनन की जांच के लिए DC रामनिवास यादव ने रविवार को खुद मंडरो पहुंच कर छापेमारी की। उन्होंने इस इलाके में दो माइंस की जांच की। DC के मुताबिक दोनों के संचालकों के नहीं मिलने के कारण कागजात वगैरह की जांच संभव नहीं हो सकी। दोनों को नोटिस किया जा रहा है। वहां से 9 पोकलेन और दो ड्रिल मशीन को जब्त किया गया है। उधर हाजीपुर पूरब पंचायत में एक स्टोन क्रशर को सदर सीओ की मौजूदगी में ध्वस्त कर दिया गया। डीसी ने बताया कि रेलवे लाइन और NH से सटकर क्रशर होने की वजह से 6 महीने पहले ही उसे हटाने का नोटिस दिया गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...